वैष्णो देवी जाने वाले भक्तों को खुश कर देगी यह खबर, आप भी जरूर पढ़ें…

 अगर आप भी अक्सर श्री माता वैष्णो देवी के दर्शन करने जाते रहते हैं या आने वाले दिनों में वहां पर जाने की प्लानिंग कर रहे हैं तो यह खबर आपको जरूर पढ़नी चाहिए. जी हां, जम्मू-कश्मीर के कटरा में स्थित श्री माता वैष्णो देवी धाम को देश का सबसे ‘स्वच्छ आइकॉनिक स्थान’ चुना गया है. आपको बता दें जल शक्ति मंत्रालय की तरफ से देश के स्वच्छ प्रतिष्ठानों की लिस्ट जारी की गई है. इस लिस्ट में माता वैष्‍णो देवी को देश का ‘सर्वश्रेष्‍ठ स्‍वच्‍छ स्‍थल’ घोषित किया गया है. माता वैष्णो देवी धाम का स्वच्छता के सभी क्षेत्रों में बेहतर प्रदर्शन करने के आधार पर पहले नंबर दिया गया है.

साफ-सफाई के लिए काफी काम किए गए
इस पवित्र स्थल पर पिछले कुछ सालों में साफ-सफाई के लिए काफी काम किए गए हैं. इनमें वाटर कियोस्क, रिवर्स वेंडिंग मशीन, गोबर मैनेजमेंट सेंटर और कूड़े को नष्ट करने वाली मशीन लगाई गई है. यहां कचरे की समस्या को हल करने के लिए 1300 कर्मचारी आउटसोर्स किए गए हैं. कचरे को इकट्ठा करने, उसको ले जाने और उसका निष्पादन करने के लिए पवित्र स्थल पर मैनेजमेंट तैयार किया गया है. इन सभी चीजों को ध्यान में रखकर वैष्णो देवी धाम को साफ-सफाई के मामले में देशभर में पहला स्थान मिला है.

वैष्णो देवी की इन जगहों से थी टक्कर
आपको बता दें इस लिस्ट में नंबर 1 पर आने के लिए वैष्णो देवी को महाराष्ट्र के छत्रपति शिवाजी टर्मिनस, आगरा के ताजमहल, आंध्र प्रदेश स्थित तिरुपति मंदिर, पंजाब के स्वर्ण मंदिर, वाराणसी के मणिकर्णिका घाट और राजस्थान के अजमेर शरीफ दरगाह से कड़ी टक्कर मिल रही थी. इस सम्मान के लिए श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड के चेयरमैन और जम्मू-कश्मीर के गवर्नर सत्यपाल मलिक ने बोर्ड के सीईओ और कर्मचारियों को बधाई दी है

वैष्णो देवी धाम, Sri mata Vaishno Devi, Swachh Iconic Place in india, Best Swachh Iconic place

गौरतलब है साल 2017 में वैष्णो देवी धाम पेयजल और स्वच्छता मंत्रालय की रैंकिंग में दूसरे पायदानप पर रहा था. उस समय पंजाब का स्वर्ण मंदिर इस सूची में पहले नंबर पर रहा था. इस साल 6 सितंबर को देश के राष्ट्रपति वैष्णो देवी धाम की इस उपलब्धि के लिए अवॉर्ड देकर सम्मानित करेंगे.

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com