Saturday , October 1 2022

तिमाही परिणामों से तय होगी बाजार की दिशा…

मुंबई। बीते सप्ताह 919 अंक से ज्यादा की साप्ताहिक तेजी में रहे शेयर बाजार की चाल आने वाले सप्ताह में कंपनियों के तिमाही परिणामों के साथ अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चा तेल की कीमतों पर निर्भर करेगी। गत सप्ताह आए कंपनियों के तिमाही परिणाम तथा वैश्विक बाजारों से मिले सकारात्मक संकेतों से बीएसई का सेंसेक्स 2.65 अंक यानी 919.19 अंक चढ़कर 35,511.58 अंक के अब तक के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 1.99 फीसदी यानी 213.45 अंक उछलकर सप्ताहांत पर 10,894.70 अंक पर बंद हुआ। मझौली और छोटी कंपनियों का सूचकांक भी साप्ताहिक बढ़त में रहा। बीएसई का मिडकैप 2.05 प्रतिशत और स्मॉलकैप 2.68 प्रतिशत चढ़ा। 
आगामी सप्ताह में शुक्रवार को गणतंत्र दिवस के अवसर पर अवकाश के कारण बाजार में चार दिन ही कारोबार होगा। इस दौरान एक्सिस बैंक, केनरा बैंक, आईडिया, इंडिगो, विजया बैंक, कोल इंडिया तथा मारुति सुजुकी जैसी बड़ी कंपनियों के परिणाम आने हैं। 

बीते सप्ताह मंगलवार की मामूली गिरावट को छोड़कर पांच में से चार कारोबारी दिवस पर शेयर बाजार नए रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुए। अच्छे तिमाही परिणामों की उम्मीद में वित्त एवं बैंकिंग क्षेत्रों के शेयरों में जबरदस्त लिवाली के दम पर सोमवार को सेंसेक्स 251.12 अंक चढ़कर 34,843.51 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी भी 60.30 अंक की बढ़त में 10,741.55 अंक पर पहुंच गया।

बढ़ते व्यापार घाटे की चिंता मंगलवार को बाजार पर हावी रही। सेंसेक्स 72.46 अंक लुढ़ककर 34,771.05 अंक पर और निफ्टी 41.10 अंक टूटकर 10,700.45 अंक पर बंद हुआ। इसके बाद लगाताार तीन दिन फिर बाजार ने रिकॉर्ड तोड़ प्रदर्शन किया। बुधवार को सेंसेक्स 310.77 अंक और गुरुवार को 178.47 अंक चढ़ा। शुक्रवार को सेंसेक्स 251.29 अंक उछलकर 35,511.58 अंक और निफ्टी 77.70 अंक की बढ़त में 10,894.70 अंक के अब तक के रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुआ।

Loading...