Tuesday , September 27 2022

यूपी दिवस कार्यक्रमों में झलकेगा प्रदेश का गौरवशाली इतिहास और स्वर्णिम भविष्य

लखनऊ। उत्तर प्रदेश दिवस पर योगी सरकार प्रदेश के गौरवशाली इतिहास की जानकारी आम लोगों तक पहुंचाएगी। अपनी उपलब्धियां भी गिनाने का मौका नहीं छोड़ेगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 24 जनवरी को जिलों में उत्तर प्रदेश दिवस मनाने का निर्देश दिया गया है। यह कार्यक्रम जिलाधिकारी की देखरेख में जिले के किसी प्रमुख सार्वजनिक स्थल पर आयोजित किये जाने की अपेक्षा की गई है। मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से इस बारे में जारी आदेश में उप्र दिवस पर जिलों में आयोजित किये जाने वाले कार्यक्रम में प्रदेश के गौरवशाली इतिहास और स्वर्णिम भविष्य पर प्रबुद्ध जनों की विचार गोष्ठी आयोजित करने के लिए कहा गया है।

रोजगार मुहैया कराने का इरादा

प्रदर्शनी आयोजित कर लोगों को सरकार की महत्वाकांक्षी वन डिस्ट्रिक्ट, वन प्रोडक्ट योजना की पूरी जानकारी देने का भी निर्देश दिया गया है। योजना के तहत प्रत्येक जिले के विशिष्ट उत्पाद को राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय पहचान दिलाने के साथ रोजगार मुहैया कराने का इरादा है। आयोजन में सभी विभागों के कार्यों के लोकार्पण/शिलान्यास कार्यक्रम को शामिल करने के लिए कहा गया है। कार्यक्रम की अध्यक्षता जिले के प्रभारी मंत्री या सांसदों से कराये जाने की अपेक्षा की गई है। कार्यक्रम में स्थानीय विधायक व अन्य जनप्रतिनिधियों को विशिष्ट अतिथि के रूप में आमंत्रित करने के लिए कहा गया है। 

लगेगी सभी विभागों की प्रदर्शनी

मुख्यमंत्री ने राजधानी लखनऊ में आयोजित होने वाले उप्र दिवस समारोह में समारोह स्थल पर सभी विभागों की प्रदर्शनी लगाने का निर्देश दिया है। इसमें विभाग की ओर से कराये जा रहे कार्यों/प्रमुख योजनाओं को प्रदर्शित किया जाएगा। योजना के क्रियान्वयन में प्राप्त उपलब्धियों और विभाग की ओर से किये गए उल्लेखनीय कार्यों को भी प्रदर्शित करने के लिए कहा गया है। 

 
Loading...