Wednesday , September 28 2022

चीन ने SMOG से बचने की निकाली ये तरकीब…

 बीजिंग। स्मॉग दिल्ली के लोगों के लिए ही परेशानी का सबब नहीं हैं बल्कि चीन के लोगों को भी इस समस्या से दो चार होना पड़ रहा है। अंतर यह है कि दिल्ली में भले ही स्मॉग का कोई सॉल्यूशन न ढ़ूढ़ा गया हो लेकिन चीन ने इस समस्या का समाधान खोज लिया है। चीन ने सौ मीटर ऊंचा एक ऐसा एयर प्यूरीफायर बनाया है, जो प्रदूषित हवा को साफ करेगा।

इसे दुनिया का सबसे बड़ा एयर प्यूरीफायर बताया जा रहा है। इसकी लंबाई 328 फीट है। इसे उत्तरी चीन के शांग्सी प्रांत में बनाया गया है, ताकि देश को बढ़ते वायु प्रदूषण से कुछ हद तक राहत दिलाई जा सके। इस प्यूरीफायर के शुरुआती नतीजे तो अच्छे रहे हैं। इसके इस्तेमाल से न सिर्फ स्मॉग कम हुआ, बल्कि एयर क्वालिटी में भी पहले के मुकाबले सुधार हुआ है।

विश्व के सबसे बड़े एयर प्यूरीफायर की विशेषताएं-

  • दुनिया का सबसे बड़ा एयर प्यूरीफायर दस वर्ग किलोमीटर एरिया में स्मॉग को घटाने में कारगर है।
  • यह रोजाना दस मिलियन क्यूबिक मीटर साफ हवा की सप्लाई करता है।
  • प्रदूषित हवा एयर प्यूरीफायर में बने ग्लास हाउस में इकठ्ठा होती है और सौर उर्जा की मदद से इस हवा को गर्म किया जाता है। बाद में ये गर्म हवा टावर में ऊपर उठती है और हवा साफ करने वाले फिल्टर्स से गुजरती है।
  • सर्दी के मौसम में भी ये सिस्टम कारगर तरीके से काम करता है। क्योंकि इसके ग्रीन हाउस में लगे ग्लास सोलर रेडिएशन को सोख लेते हैं और प्रदूषित हवा को गर्म करने के लिए जरूरी उर्जा इकठ्ठा कर लेते हैं।
  • 2014 में इस टावर के पेटेंट के लिए लगाए गए आवेदन में ये जानकारी दी गई थी कि पूरी क्षमता में ये टावर 1640 फीट की ऊंचाई हासिल कर सकता है और चौड़ाई 656 फीट तक जा सकती है।
Loading...