Tuesday , September 27 2022

गंगा का जल स्तर सामान्य होने के बाद ,राफ्टिंग शुरू करने की अनुमति जारी 

 पर्वतीय क्षेत्र में हो रही बारिश से गंगा के जलस्तर में वृद्धि दर्ज की गई थी। पर्यटन विभाग ने बीते शुक्रवार को अनिश्चित काल के लिए राफ्टिंग पर रोक लगाई थी। बुधवार को राफ्टिंग शुरू करने की अनुमति जारी कर दी गई है।

 गंगा के बढ़ते जलस्तर ने राफ्टिंग की राह में अवरोध पैदा कर दिया था। पर्यटन विभाग की ओर से बीते शुक्रवार को अनिश्चित काल के लिए राफ्टिंग पर रोक लगाई थी।

बुधवार को गंगा का जल स्तर सामान्य होने के बाद जिला तकनीकी समिति की ओर से राफ्टिंग शुरू करने की अनुमति जारी कर दी गई है। जिसके बाद गंगा में फिर से रंग बिरंगी राफ्ट नजर आने लगी।

मानसून को देखते हुए हर साल राफ्टिंग पर लगती है रोक

पर्यटन विभाग की ओर से 30 जून से 31 अगस्त तक मानसून को देखते हुए गंगा में राफ्टिंग पर रोक लगाने की व्यवस्था लागू की गई है। जिसके तहत इस वर्ष 31 अगस्त तक राफ्टिंग पर रोक लागू हो गई थी। एक सितंबर से राफ्टिंग शुरू होने का प्रावधान है।

इस वर्ष 10 सितंबर को गंगा में खोल दी गई थी राफ्टिंग

गंगा का जलस्तर सामान्य ना होने के कारण जिला साहसिक खेल विभाग की ओर से इस वर्ष 10 सितंबर को गंगा में राफ्टिंग खोल दी गई थी।

पिछले कुछ दिनों से मौसम अलर्ट के कारण पर्वतीय क्षेत्र में हो रही बारिश से गंगा के जलस्तर में वृद्धि दर्ज की गई थी। जिसके बाद बीते शुक्रवार को पर्यटन विभाग की ओर से राफ्टिंग पर रोक लगा दी गई थी।

गंगा का जलस्तर राफ्टिंग के अनुकूल

बुधवार को पर्यटन विभाग के अंतर्गत जिला तकनीकी समिति ने गंगा में हालात का किया निरीक्षण। गंगा का जलस्तर राफ्टिंग के अनुकूल पाया गया। जिला साहसिक खेल अधिकारी केएस नेगी के मुताबिक तकनीकी समिति ने शिवपुरी से लेकर मुनिकीरेती तक विभिन्न स्थान पर गंगा में हालात का निरीक्षण किया।

बुधवार से गंगा में राफ्टिंग शुरू

ब्रम्हपुरी में गंगा का जलस्तर ग्रीन लेवल से नीचे पाया गया। इस आधार पर बुधवार से गंगा में राफ्टिंग शुरू कर दी गई है। सभी राफ्टिंग कंपनियों को सूचित कर दिया गया है। दोपहर 12:00 बजे से गंगा में रंग बिरंगी राफ्ट फिर से नजर आने लगीं

Loading...