Wednesday , August 17 2022

घर में सो रही किशोरी का तीन युवकों ने अपहरण के बाद किया दुष्कर्म

घर में मां के साथ सो रही किशोरी का तीन युवकों ने शुक्रवार रात अपहरण कर लिया। तीनों ने उसके साथ दरिंदगी की और फिर नग्नावस्था में गांव के बाहर झाड़ियों में फेंक दिया। सुबह किशोरी गांव के बाहर बेहोश मिली। पिता ने युवकों के खिलाफ अपहरण व गैंगरेप का मुकदमा दर्ज कराया है। घटना शुक्रवार देर रात अछलदा थाना क्षेत्र के एक गांव की है। शुक्रवार की रात करीब 11.30 बजे पड़ोस में रहने वाले आरोपी ने बच्ची का अपहरण कर लिया।

पीड़ित पिता के अनुसार, उनकी चौदह साल की बेटी और पत्नी घर में सो रही थीं। अन्य सदस्य छत पर सोए थे। रात में किसी समय गांव के तीन युवक घर में दाखिल हुए और बेटी को नशीला पदार्थ सुंघाकर उठा ले गए। शनिवार भोर बेटी घर पर नहीं मिली तो उसकी खोजबीन शुरू हुई। सुबह करीब दस बजे गांव के बाहर वह नग्नावस्था में बेहोश मिली। इससे परिजनों सहित गांव में कोहराम मच गया। गैंग रेप पीड़िता शनिवार सुबह एक मंदिर के पीछे अचेत अवस्था में मिली। उसे इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है। बाद में पुलिस ने उसका बयान दर्ज किया।

पुलिस ने बताया कि आरोपियों की पहचान कर ली गई है और उनकी गिरफ्तारी को संभव बनाने के लिए छापेमारी की जा रही है। परिवार के लोग उसे उठाकर घर लाए। परिजनों की शिकायत के आधार पर पुलिस ने तीन पड़ोसी युवकों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। परिवार ने थाने जाकर गौरी, नेपाली उर्फ देवेश कुमार और कुलदीप के खिलाफ बेटी के अपहरण और गैंगरेप की एफआईआर दर्ज कराई। गैंगरेप की सूचना पर एसपी चारू निगम ने घर पहुंचकर परिजनों से पूछताछ की। उन्होंने पुलिस टीम बनाकर आरोपितों के जल्द गिरफ्तारी का आदेश दिए।

Loading...