बारिश में इस तरह रखे अपनी स्किन का खास ध्यान

मानसून की फुहारों को हर कोई पसंद करता है लेकिन इस मौसम में सेहत को कई नुकसान झेलने पड़ते हैं। इसके अलावा स्किन और भी कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। जी दरअसल मानसून की बारिश में भीगना और मस्ती करना बहुत अच्छा लगता है लेकिन वातावरण में उमस, आर्द्रता,की वजह से खुजली जलन, लाल दाग तथा संक्रमण की अनेक बीमारियाँ शुरु हो जाती हैं। जी हाँ और मानसून की पहली बारिश के साथ ही वातावरण में आर्द्रता आ जाती है जिसकी वजह से त्वचा से जुड़ी अनेक समस्याएं खड़ी हो जाती है। बारिश से त्वचा में संक्रमण, एलर्जी, मुहांसे, काले धब्बे, फंगस आदि की समस्या पैदा हो जाती है। इस वजह से मौसम बदलते ही आपको अपनी त्वचा से जुड़ी दिनचर्या को भी बदलना चाहिए। 

* अगर आप देख रहे हैं आसमान बादलों से घिरा है तो आप घर से बाहर निकलने से 20 मिनट पहले सनस्क्रीन का उपयोग अवश्य करें। जी हाँ और यह सुनिश्चित कर लें कि आपकी सनस्क्रीन जैल फार्म में पानी अवरोधक एस।पी।एफ 30 होनी चाहिए जो कि यू।वी।ए तथा यू।वी।बी किरणोंसे प्रतिरक्षा प्रदान करें।
* अगर आप बर्फीले क्षेत्रों या समुद्र तल के नजदीक रहते हैं तो इन क्षेत्रों में सूर्य की किरणें बहुत तेज होती हैं और इसके अलावा इन स्थानों पर आपको एस।पी।एफ 40 सनस्क्रीन उपयोग करनी चाहिए।

* अगर आपकी त्वचा तैलीय है तो सनस्क्रीन जैल का उपयोग बेहतर रहेगा। 
* इसके अलावा बारिश में सुबह उठते ही सबसे पहले गर्म पानी में नींबू का रस डालकर जरूर लें।
* बारिश में अपने आहार में फल, सब्जियां सालाद, दही, लस्सी जैसे पदार्थों को अवश्य शामिल करें। जी हाँ, इसी के साथ इस मौसम में चाय, कॉफी, कोल्ड ड्रिंक आदि का परहेज बेहतर होगा जबकि नारियल पानी में विद्यमान पोटेशियम की वजह से यह आपकी त्वचा के लिए बेहतर होगा।

Loading...