मौसम विभाग ने आज इन राज्यों में भारी बारिश का अलर्ट, जानिए अपने शहर का हाल

मौसम के हाल के बारे में जाने तो पूर्वोत्तर राज्यों से लेकर कश्मीर तक बारिश का सिलसिला दिखाई दे रहा है। जी दरअसल दक्षिण-पश्चिम मानसून(Southwest Monsoon) और प्री मानसून गतिविधियों के चलते देश के कई राज्यों में बारिश या भारी बारिश हो रही है। वहीं IMD ने असम के कुछ हिस्सों में फिर भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। वहीं कश्मीर घाटी में भी भारी बारिश के कारण नदियां उफनने से परेशानियां खड़ी हो गई हैं। इसी के साथ भारतीय मौसम विभाग (India Meteorological Department) के अनुसार, आजकल में सिक्किम, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, असम के कुछ हिस्सों, मेघालय, कोंकण और गोवा, तटीय कर्नाटक, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के कुछ हिस्सों हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश के साथ भारी बारिश की संभावना है।

इसके अलावा ओडिशा, दक्षिण छत्तीसगढ़, मध्य महाराष्ट्र तटीय कर्नाटक और दक्षिण गुजरात में हल्की से मध्यम बारिश के साथ एक-दो स्थानों पर भारी बारिश का अलर्ट जार किया गया है। वहीं शेष पूर्वोत्तर भारत, बिहार के कुछ हिस्सों, झारखंड, पश्चिम बंगाल, आंतरिक ओडिशा, विदर्भ, मराठवाड़ा, तेलंगाना, केरल, आंतरिक कर्नाटक, लक्षद्वीप, दक्षिण गुजरात और पश्चिमी हिमालय क्षेत्रों में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। इसी के साथ छत्तीसगढ़ और तमिलनाडु में हल्की बारिश संभव है। वहीं पश्चिमी हिमालय, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान, कच्छ, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश के अधिकांश हिस्सों, झारखंड के पश्चिमी हिस्सों और बिहार के अधिकांश हिस्सों में कम से कम अगले 3 से 4 दिनों तक मौसम शुष्क रह सकता है। इसी के साथ राजस्थान के बीकानेर, जोधपुर, जयपुर, अजमेर, कोटा और भरतपुर संभागों में पिछले 24 घंटों में हल्की से मध्यम बारिश हुई। आने वाले 23 से 26 जून तक मौसम मुख्य रूप से शुष्क रहेगा और विभाग ने उदयपुर और कोटा संभागों में 26-27 जून तक एक और बारिश की भविष्यवाणी की है।

इसी के साथ बंगाल की खाड़ी से आने वाली दक्षिण-पश्चिमी हवा के प्रभाव से अगले 4-5 दिनों में पश्चिम बंगाल और सिक्किम में बड़े पैमाने पर बारिश होने की संभावना है। जी दरअसल IMD के अनुसार, उप-हिमालयी जिलों दार्जिलिंग, कलिम्पोंग, जलपाईगुड़ी, कूचबिहार और अलीपुरद्वार और सिक्किम में भी छिटपुट स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है। वहीं बंगाल की खाड़ी से दक्षिण और दक्षिण-पश्चिम हवा के प्रभाव में बारिश होने की संभावना है।

इसी के साथ भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने कहा कि दक्षिण-पश्चिम मानसून अपनी सामान्य तिथि, 27 जून के आसपास दिल्ली पहुंचेगा और जून के अंत तक बारिश की कमी की भरपाई कर दी जाएगी। बीते तीन दिनों में हुई प्री-मानसून बारिश ने दिल्ली में बारिश की कमी को कम कर दिया है और इससे पहले IMD ने कहा था कि मानसून के 23 जून से 29 जून के बीच उत्तर पश्चिम भारत के कई हिस्सों में आने की संभावना है।

Loading...