ठेके पट्टे व ट्रांसफर, पोस्टिंग से दूर रहे विधायक: सीएम योगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमारी जवाबदेही जनता के प्रति होनी चाहिये। एक जनप्रतिनिधि अपना जीवन जनता के लिये समर्पित कर दे। नकारात्मकता जनप्रतिनिधि के लिए खतरनाक है। जनता भी फिर इसी भाव के साथ आपको लेती है। ठेके पट्टे व ट्रांसफर पोस्टिंग से विधायक दूर रहें। राजनेता अब अविश्वास का प्रतीक बन गया। इसे विधानसभा में अपने आचरण व मुद्दों चर्चा के जरिये दूर किया जा सकता है।

मुख्यमंत्री शनिवार को विधायकों के प्रबोधन कार्यक्रम में बोल रहे थे। उन्होंने नकारात्मकता उदाहरण देते हुये कहा कि एक विधायक बार बार धरना प्रदर्शन करते थे। इस बार चुनाव हारे। चौथे नम्बर पर आए। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि सांसद होने के नाते गोरखपुर के अस्पताल के वार्ड की दयनीय हालत देखी थी। तब हमने वहां ज़रूरी व्यवस्था कराई। संसद में स्पीकर से इस जेई से बच्चों की मौत के मुद्दे को उठाने की कई कोशिश के बाद अनुमति मिली। ठेके पट्टे से अनुराग रखने वाले नेता नीचे खिसकते जाते है। अगर जाति की राजनीति होती तो सुरेश खन्ना व सतीश महाना कैसे जीतते। कई सदस्य जनता के प्रति तटस्थता रखते हैं। ठेके पट्टे व ट्रांसफर पोस्टिंग से विधायक दूर रहें।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि राज्यपाल के मार्गदर्शन में यूपी आगे बढ़ रहा है। यूपी विधानसभा अब वैसी हो गई जैसी दिखनी चाहिये। सदन में लगी डिवाइस मोबाइल फोन इस्तेमाल जितनी आसान है। केवल इसे रुचि से सीखना होगा। राज्यपाल के अभिभाषण पर चर्चा के लिये जरूरत पड़े तो अध्यक्ष जी को रात में भी सदन चलाना चाहिये।

Loading...