सनबर्न से बचने के लिए लौकी के छिलके का इस तरह करें इस्तेमाल

लौकी की सब्जी बहुत कम लोगों को पसंद होती है लेकिन फिर भी घर में लौकी बनती ही है। खैर लौकी छोड़िये हम बात कर रहे हैं उसके छिलके के बारे में। जी दरअसल इसके छिलके में सेहत और सौन्दर्य की समस्याओं से राहत देने वाले गुण मौजूद होते हैं। आज हम आपको उन्ही के बारे में बताने जा रहे हैं।

लौकी के छिलके के फायदे-

सनबर्न या टैनिंग- आपको यह जानकर हैरानी होगी, लेकिन लौकी के छिलके का प्रयोग धूप से झुलसी एवं काली हो चुकी त्वचा के लिए बेहद फायदमंद साबित हो सकता है। जी हाँ और इसके लिए आपको बसा इतना करना है कि इन छिलकों का पेस्ट बनाना है, और त्वचा पर लगाकर रखना है और फिर धो लेना है।

गर्माहट व जलन- अधिक गर्मी के कारण त्वचा एवं पैर के तलवों में जलन होने लगती है, और इससे बचने के लिए लौकी के छिलकों का प्रयोगकर सकते हैं। इन छिलकों को त्वचा पर रगड़ने से राहत मिलती है। आप इसका आसनी से इस्तेमाल कर सकते हैं।

बवासीर- बवासीर या पाइल्स की समस्या होने पर भी लौकी के छिलके फायदेमंद है। जी हाँ और इसके लिए इन छिलकों को सुखाकर पाउडर बना लें और इसे रोजाना ठंडे पानी के साथ दिन में दो बार सेवन करें।

दस्त- दस्त की समस्या से निजात पाने के लिए भी लौकी के छिलके इस्तेमाल किये जा सकते हैं।

कब्‍ज और गैस- लौकी के छिलके में भरपूर मात्रा में फाइबर और आवश्‍य‍क तत्‍व पाए जाते हैं। जी हाँ और इन्हे खाने से कब्‍ज, गैस की समस्‍या नहीं होती।

Loading...