जमीन विवाद: दादा और चाचा ने मासूम बच्चे को उतारा मौत के घाट

छत्तीसगढ़ के महासमुंद जिले के सरायपारी इलाके के प्रेतनडीह गांव के एक तालाब के किनारे बोरे में 6 साल के एक बच्चे की लाश मिली थी. यह बच्चा एक दिन पहले ही अपने घर से गायब हुआ था. तरुण नामक इस बच्चे के माता पिता ने उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखाई थी. इससे पहले कि पुलिस खोजबीन शुरू करती, उसकी लाश बरामद हो गई.

जानकारी के मुताबिक, प्रेतनडीह गांव के सरकारी स्कूल में पढ़ने वाला तरुण अपने घर के सामने खेल रहा था. उसके साथ पड़ोस के कुछ बच्चे भी थे. इस बीच तरुण के दादा वहां पहुंचे. उसको अपने साथ ले गए, लेकिन देर रात तक वह अपने घर नहीं पहुंचा. पड़ोस से लेकर आसपास के इलाकों में उनकी खोजबीन हुई, लेकिन उसका कुछ पता नहीं चल पाया.

तरुण के दादा उसके चाचा के साथ बस्ती के दूसरे छोर में रहते हैं. तरुण के माता-पिता रोजाना की तरह घर से दूर कामकाज के लिए गए थे. तरुण की लाश मिलने के बाद शुरू हुई तहकीकात से मामले का खुलासा हो गया. दरअसल, जमीन के बंटवारे को लेकर तरुण के पिता का अपने माता-पिता और भाई से विवाद चल रहा था. उनके बीच नोंकझोंक हुई थी.

इस घटना के दूसरे दिन सुबह तरुण के चाचा और दादा को कुछ लोगों ने तालाब की ओर से आते हुए देखा था. पुलिस ने तीनों को जब थाने बुलाया तो उन्हें अपनी गिरफ्तारी का अंदेशा हो गया. लिहाजा तीनों अपने घर से फरार हो गए. एएसपी संजय ध्रुव के मुताबिक, तरुण के दादा, दादी और चाचा के खिलाफ हत्या के पुख्ता सबूत मिले हैं.

Loading...