कैंसर की जंग हार गईं पूर्व विंबलडन चैंपियन याना नोवोत्ना

पूर्व विंबलडन चैंपियन याना नोवोत्ना का कैंसर के कारण 49 साल की उम्र में निधन हो गया. डब्ल्यूटीए ने उनके निधन की सूचना दी. डब्ल्यूटीए ने बयान में कहा कि नोवोत्ना ने 1998 में फ्रांस की नताली तौजियात को फाइनल में हराकर विंबलडन खिताब जीता था. उनका रविवार को चेक गणराज्य में निधन हो गया. 

इसके अलावा वह दो अन्य अवसरों पर भी विंबलडन फाइनल में पहुंची थी लेकिन 1993 में स्टेफी ग्राफ और 1997 में मार्टिना हिंगिस से हार गईं थीं.नोवात्ना ने इसके अलावा 1989 और 1990 में हमवतन हेलेना सुकोवा के साथ, 1995 में अरांत्सा सांचेज विकारियो और 1998 में हिंगिस के साथ मिलकर विंबलडन युगल खिताब भी जीते थे.

याना ने सभी चारों ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट में युगल खिताब जीते थे. 2 अक्तूबर 1968 को जन्मीं नोवोत्ना ने 1987 से 1999 के बीच अपने करियर में 24 एकल और 76 युगल खिताब जीते थे.

उन्होंने ईस्ट चेकोस्लोवाकिया के लिए 1988 में फेड कप जीतने में भी अहम भूमिका निभाई थी.

Loading...