Thursday , December 9 2021

दक्षिण अफ्रीका दौरे से पहले टीम इंडिया के लिए लगेगा शिविर

कोलकाता। भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के कार्यवाहक सचिव अमिताभ चौधरी ने शनिवार को कहा कि दक्षिण अफ्रीका के लंबे दौरे से पहले राष्ट्रीय टीम के लिए एक शिविर लगाया जाएगा. चौधरी ने कहा कि बीसीसीआई की आगामी विशेष आम बैठक (एसजीएम) में एफटीपी में पाकिस्तान को शामिल किए जाने को लेकर भी चर्चा हो सकती है. यह पता चला है एक दिसंबर को प्रस्तावित यह बैठक अब नौ दिसंबर को होगी.दक्षिण अफ्रीका दौरे से पहले टीम इंडिया के लिए लगेगा शिविर

उन्होंने कहा कि दक्षिण अफ्रीका दौरे से पहले खिलाड़ियों के लिए एक शिविर लगाया जाएगा. मुझे पता है कि समय काफी कम है लेकिन हम देखेंगे कि इसमें क्या सर्वश्रेष्ठ कर सकते हैं. भारत दौरे पर आई श्रीलंकाई टीम का आखिरी मैच 24 दिसंबर को मुंबई में होगा और इसके चार दिनों के बाद भारतीय टीम दक्षिण अफ्रीका के लिए रवाना होना है जहां उन्हें पांच जनवरी से पहला टेस्ट मैच खेलना है. दो महीने के इस दौरे पर टीम को तीन टेस्ट, छह वनडे और तीन अंतरराष्ट्रीय टी-20 मैच खेलना है.

आईसीसी ने नौ टीमों की टेस्ट लीग और 13 टीमों की वनडे लीग को हरी झंडी दी है ताकि द्विपक्षीय श्रृंखला को ज्यादा महत्व दिया जा सके जो क्रमश: 2019 और 2020 में शुरू होंगी. टेस्ट लीग में नौ टीमों को दो साल में छह श्रृंखलाओं में खेलना है जिसमें तीन घरेलू और तीन विदेशी सरजमीं पर होगीं. हर श्रृंखला में कम से कम दो और अधिक से अधिक पांच मैच हो सकते है. सभी मैच पांच दिवसीय प्रारूप में खेले जाएंगे जिसका समापन विश्व टेस्ट लीग चैम्पियनशिप के फाइनल से होगा. 

दिल्ली में होने वाली एसजीएम के मद्देनजर उन्होंने कहा कि किसी विश्व कप या चैम्पियनशिप में अगर 20 टीमें खेलती है तो क्या यह संभव है कि सभी टीमें एक दूसरे के खिलाफ खेले, इसलिए इसका तरीका ढूंढा जाएगा. यह सच है कि भारत-पाकिस्तान मैच से बड़ी संख्या में लोगों की भावनाएं जुड़ी होती है. उस पर विचार किया जाएगा. विश्व कप की तरह यहां भी ये जरूरी नहीं है कि हम हर टीम के खिलाफ खेलें.

बीसीसीआई के कोषाध्यक्ष अनिरुध चौधरी ने इस बैठक से पहले कार्यवाहक अध्यक्ष सीके खन्ना और कार्यवाहक सचिव को पत्र लिखकर एफटीपी योजना को साझा करने को कहा है. चौधरी ने कहा कि किसी भी सदस्य को अंधेरे में नहीं रखा जाएगा. बोर्ड के सभी सदस्यों को संबंधित कागजात के साथ एसजीएम के नोटिस को भेजा जाएगा जिसमें सभी एजेंडो का जिक्र होगा.

Loading...

Join us at Facebook