Saturday , November 27 2021

कोणार्क एक्सप्रेस ट्रेन के AC कोच में चूहे की वजह से हुआ हंगामा

भुवनेश्वर: कोणार्क एक्सप्रेस के ऐसी कोच एक चूहे की वजह से अफरा तफरी मच गई. हुआ ये की इस ट्रैन के ऐसी कोच में एक चूहा मर गया था. मरे हुए चूहे की बदबू से परेशान होकर ओडिशा उच्च न्यायालय के एक न्यायाधीश ट्रेन से उतर गए.  यह पूरा मामला शुक्रवार का है जब मुंबई जाने वाली कोणार्क एक्सप्रेस ट्रेन के एसी कोच में एक चूहा मर गया. इससे लोगो में काफी आक्रोश देखा गया. 

भुवनेश्वर: कोणार्क एक्सप्रेस के ऐसी कोच एक चूहे की वजह से अफरा तफरी मच गई. हुआ ये की इस ट्रैन के ऐसी कोच में एक चूहा मर गया था. मरे हुए चूहे की बदबू से परेशान होकर ओडिशा उच्च न्यायालय के एक न्यायाधीश ट्रेन से उतर गए.  यह पूरा मामला शुक्रवार का है जब मुंबई जाने वाली कोणार्क एक्सप्रेस ट्रेन के एसी कोच में एक चूहा मर गया. इससे लोगो में काफी आक्रोश देखा गया.     न्यायमूर्ति बिश्वनाथ रथ यहां से विशाखापट्टनम का सफर करने वाले थे लेकिन उन्होंने भुवनेश्वर-मुंबई सुपरफास्ट ट्रेन में खराब स्वच्छता हालातों के खिलाफ विरोध जताने के लिए बेरहामपुर रेलवे स्टेशन पर अपनी यात्रा बीच में ही रद्द कर दी.  ट्रैन में सफर कर रहे एक यात्री ने बताया कि कोच में मरा हुआ चूहा पाया गया था. बोगी में घूसते ही मरे हुए चूहे की तेज बदबू आ रही थी. इस बारे में ट्रेन में मौजूद रेलवे कर्मचारियों को भी शिकायत की गई, लेकिन कोई कुछ नहीं कर सका. ये बदबू बर्दाश्त करने लायक नहीं थी जिस कारण हाई कोर्ट के जज बेरहामपुर स्टेशन पर ट्रेन से उतर गए.  न्यायमूर्ति बिश्वनाथ ने स्टेशन पर मौजूद रेलवे के रजिस्टर में एक शिकायत दर्ज कराई है. पूर्वी तटीय रेलवे ने एक बयान जारी कर घटना होने की बात स्वीकार की है और कहा है कि वह मामले को गंभीरता से देख रही है. गौरतलब है कि इससे पहले गोवा से मुंबई आ रही तेजस एक्‍सप्रेस में 15 अक्टूबर को ट्रैन का खाना खाने से  24 से ज्यादा यात्री को फूड पॉइजनिंग हो गई थी.  इनमें से 3 की हालत ज्यादा खराब होने की वजह से उन्हें आईसीयू में भर्ती कराया गया. 

न्यायमूर्ति बिश्वनाथ रथ यहां से विशाखापट्टनम का सफर करने वाले थे लेकिन उन्होंने भुवनेश्वर-मुंबई सुपरफास्ट ट्रेन में खराब स्वच्छता हालातों के खिलाफ विरोध जताने के लिए बेरहामपुर रेलवे स्टेशन पर अपनी यात्रा बीच में ही रद्द कर दी.

ट्रैन में सफर कर रहे एक यात्री ने बताया कि कोच में मरा हुआ चूहा पाया गया था. बोगी में घूसते ही मरे हुए चूहे की तेज बदबू आ रही थी. इस बारे में ट्रेन में मौजूद रेलवे कर्मचारियों को भी शिकायत की गई, लेकिन कोई कुछ नहीं कर सका. ये बदबू बर्दाश्त करने लायक नहीं थी जिस कारण हाई कोर्ट के जज बेरहामपुर स्टेशन पर ट्रेन से उतर गए.

न्यायमूर्ति बिश्वनाथ ने स्टेशन पर मौजूद रेलवे के रजिस्टर में एक शिकायत दर्ज कराई है. पूर्वी तटीय रेलवे ने एक बयान जारी कर घटना होने की बात स्वीकार की है और कहा है कि वह मामले को गंभीरता से देख रही है. गौरतलब है कि इससे पहले गोवा से मुंबई आ रही तेजस एक्‍सप्रेस में 15 अक्टूबर को ट्रैन का खाना खाने से  24 से ज्यादा यात्री को फूड पॉइजनिंग हो गई थी.  इनमें से 3 की हालत ज्यादा खराब होने की वजह से उन्हें आईसीयू में भर्ती कराया गया. 

Loading...

Join us at Facebook