Saturday , November 27 2021

‘पद्मावती’ की रिलीज पर बढ़ सकती है हिंसा, IB का अलर्ट-होम डिपार्टमेंट ने CBFC को लिखा लेटर

लखनऊ.बॉलीवुड फिल्म डायरेक्टर संजय लीला बंसाली की पद्मावती फिल्म पर विवाद दिन पर दिन बढ़ता जा रहा है। विभिन्न सामाजिक संगठनों ने विरोध और प्रदर्शन शुरू कर दिया है। इसी कड़ी में आईबी ने फिल्म रिलीज होने के बाद हिंसा के बढ़ने की आशंका जताई हैं। वहीं, यूपी के गृह विभाग ने केंद्रीय सेंसर बोर्ड को लेटर लिखकर इसे रिलीज करने से पहले सभी तथ्यों की सच्चाई जांचने का आग्रह किया हैं।

'पद्मावती' की रिलीज पर बढ़ सकती है हिंसा, IB का अलर्ट-होम डिपार्टमेंट ने CBFC को लिखा लेटर

निकाय चुनाव-बराबफात भी चुनौती…

 – पीएस होम अरविंद कुमार ने बताया, ”यूपी में 1 दिसंबर को निकाय चुनाव के परिणाम आएंगे। इसी ही दिन बाराबफात का अंतिम जुलूस भी निकाला जाएगा।”
– ”अगर इस दौरान पद्मावती फिल्म रिलीज हुई तो सामाजिक संगठनों द्वारा विरोध किया गया जा सकता है। इससे हिंसा व्यापक रुप ले सकती है।” 
– ”इसलिए केंद्रीय सेंसर बोर्ड को लेटर लिखकर आग्रह किया गया हैं कि फिल्म के रिलीज का परमिशन सर्टिफिकेट जारी करने से पहले उठ रहे विवाद को हल कर लिया जाए।”

DGP ने भी बुलाई बैठक

– यूपी में आईबी के अलर्ट के बाद पद्मावती फिल्म के रिलीज मामले पर 15 नवंबर को डीजीपी ने मुख्यालय में एक मीटिंग बुलाई गई थी।

– मीटिंग में एडीजी एलओ, आईजी एलओ एचआर शर्मा समेत सभी अधिकारी मौजूद रहे। डीजीपी ने यूपी के सभी एडीजी जोन-आईजी रेंज और जिले के एसपी-एसएसपी को सुरक्षा व्यवस्था करने के निर्देश दिए।
– डीजीपी ने सभी जिले के पुलिस कप्तान को निर्देशित किया कि अगर कोई भी सामाजिक संगठन कानून हाथ में लेता है तो उसके खिलाफ सख्ती से कार्यवाही हो।”

कैसे शुरू हुआ पद्मावती फिल्म पर विवाद?

– राजपूत करणी सेना इसका विरोध कर रही है। इसकी शुरुआत राजस्थान में शूटिंग के वक्त हुई थी। सेना का मानना है कि ​फिल्म में पद्मिनी और खिलजी के बीच इंटीमेट सीन फिल्माए जाने से उनकी भावनाओं को ठेस पहुंची है, जिसके चलते काफी समय से इसका विरोध हो रहा है। शूटिंग के वक्त राजपूत करणी सेना ने कई जगह प्रदर्शन किया था और पुतले फूंके थे।

फिल्म डायरेक्टर का स्टैंड क्या है?

– डायरेक्टर संजय लीला भंसाली ने कहा था, ”फिल्म में ऐसा कुछ नहीं है, जिसे लेकर विरोध किया जा रहा है। पिछले दिनों एक कलाकार ने पद्मावती की रंगोली बनाई, लेकिन कुछ लोगों ने ये रंगोली बिगाड़ दी।”
– ”इसके बाद फिल्म में पद्मावती का किरदार निभा रही दीपिका पादुकोण ने इन्फॉर्मेशन एंड ब्रॉडकास्टिंग मिनिस्टर स्मृति ईरानी को टैग करते हुए ट्वीट किया था कि इस तरह की घटनाओं पर एक्शन लिया जाना चाहिए।”

SC ने याचिका की है खारिज

– सुप्रीम कोर्ट ने पद्मावती फिल्म की रिलीज पर रोक लगाने की मांग संबंधी पिटीशन खारिज कर दी है। कोर्ट ने कहा, ”सेंसर बोर्ड ने अभी इस फिल्म को सर्टिफिकेट जारी नहीं किया है।”
– ”वो एक इंडिपेंडेंट बॉडी है, इसलिए सुप्रीम कोर्ट को उसके अधिकार क्षेत्र (jurisdiction) में दखल नहीं देना चाहिए।”

फिल्म पर रोक के लिए होम मिनिस्टर को भी लिखा गया था लेटर

– बता दें, सेंसर बोर्ड के सदस्य अर्जुन गुप्ता ने होम मिनिस्टर राजनाथ सिंह को लेटर लिख फिल्म प्रोडूसर संजय लीला भंसाली पर देशद्रोह का मामला दर्ज करने की मांग की थी। 
– उनका कहना था, ”फिल्म में इतिहास के साथ तोड़-मरोड़ की गई है, जिसे बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है। भंसाली के खिलाफ सख्त एक्शन बहुत जरूरी है ताकि वो भविष्य में ऐसी फिल्में बनाने से बचें। 
– वहीं, प्रोडूसर संजय लीला भंसाली ने वीडियो रिलीज कर पद्मावती पर सफाई दी थी। उन्होंने कहा, ”फिल्म में पद्मावती और अलाउद्दीन के बीच कोई रोमांटिक सीन नहीं है।”
– बता दें, बीजेपी, राजस्थान के कई राजघराने और कई दूसरे संगठन भी फिल्म को लेकर आपत्ति जता चुके हैं। इससे पहले बीजेपी ने चुनाव आयोग से गुजरात चुनाव तक फिल्म की रिलीज पर रोक की मांग की थी। हालांकि चुनाव आयोग ने उस मांग को खारिज कर दिया था।

1 दिसंबर है फिल्म रिलीज डेट

– सिनेमाघरों में पद्मावती 1 दिसंबर को रिलीज हो रही है। इसमें दीपिका पादुकोण, रणवीर सिंह और शाहिद कपूर मुख्य भूमिकाओं में हैं। 
– बता दें, फिल्म रानी पद्मावती के किरदर पर बनी है, इतिहासकार पद्मावती को सिर्फ एक काल्पनिक किरदार मानते हैं।

Loading...

Join us at Facebook