Wednesday , December 8 2021

एडम गिलक्रिस्ट की भारत चेतावनी, जरुर खलेगी भारतीय क्रिकेट को धोनी की कमी’

भारतीय क्रिकेट में एमएस धोनी के योगदानों के बारे में जितनी चर्चा की जाए उतनी कम है. अपनी कप्तानी में भारत को दो वर्ल्ड कप जिताने वाले धोनी न सिर्फ बेहतरीन कप्तान बल्कि एक शानदार बल्लेबाज भी रहे हैं और उन्हें वनडे का बेस्ट फिनिशर माना जाता है. लेकिन हाल के कुछ वर्षों में कई आलोचक धोनी की टीम इंडिया में जगह को लेकर सवाल उठाते रहे हैं और 2019 के वर्ल्ड कप में उनके खेलने या न खेलने को लेकर अक्सर बहस होती रहती है. लेकिन धोनी के आदर्श और महान ऑस्ट्रेलियाई विकेटकीपर रहे एडम गिलक्रिस्ट ने कहा है कि धोनी के अंदर अभी भी भारतीय क्रिकेट को देने के लिए बहुत कुछ बाकी है.

एडम गिलक्रिस्ट की भारत चेतावनी, जरुर खलेगी भारतीय क्रिकेट को धोनी की कमी’

‘धोनी के जाने से पैदा हो जाएगा शून्य’

नई दिल्ली में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान गिलक्रिस्ट ने कहा, ‘मुझे लगता है कि भारतीय टीम जितना सोचती है, उससे ज्यादा फायदा उसे उनके (धोनी) अनुभव और उनके आसपास रहने से मिलता है.’ गिलक्रिस्ट ने कहा, धोनी नंबर 3 से लेकर नंबर 7 तक किसी भी पोजिशन पर खेल सकते हैं और अभी भी उनका काफी प्रभाव है. भारतीय टीम को उनके अनुभव और आसपास रहने से मैदान के अंदर और बाहर दोनों जगह फायदा होता है.’ 

गिलक्रिस्ट ने चेतावनी देते हुए कहा कि धोनी के रिटायरमेंट से भारतीय क्रिकेट में बड़ा शून्य पैदा होगा जिसे भरने में काफी वक्त लगेगा. गिली ने कहा, ‘धोनी ने पहले ही खुद को क्रिकेट से दूर करना शुरू कर दिया है. वह अब टेस्ट टीम में नहीं हैं. लेकिन उनके जाने से निश्चित तौर पर एक बड़ा शून्य पैदा होगा. ये वैसे ही होगा जैसे ‘बिग फोर’ (सचिन, द्रविड़, गांगुली, लक्ष्मण) के जाने से हुआ था या सभी ऑस्ट्रेलियाई लेजेंड्स के जाने से हुआ था. धोनी के जाने से मैदान के अंदर और बाहर एक बड़ा शून्य पैदा होगा. लोग उनके द्वारा अपने शांतचित्त अंदाज और अनुभव से मैदान के अंदर और बाहर पैदा किए जाने वाले अंतर को कम करके आंकते हैं.’

गिलक्रिस्ट ने साथ ही कहा कि धोनी को पता है कि उनके रिटायरमेंट का सही वक्त क्या है. उन्होंने कहा, ‘उन्हें पता होगा कि कब जाना है. वह जारी रखने के लिए उत्सुक हैं और इसके लिए त्याग भी करते हैं. सही समय आने पर वह इस पर फैसला करेंगे.’ गिलक्रिस्ट ने धोनी को अपना उत्तराधिकारी बताते हुए कहा वह जिस तरह से खेले हैं वह उल्लेखनीय है. गिली ने कहा, ‘उन्होंने जिस तरह से हर भूमिका में खुद को संभाला है वह शानदार है. न सिर्फ एक विकेटकीपर और एक बल्लेबाज की तरह बल्कि मैदान के बाहर भी. मार्केटिंग से लेकर वह खुद को जिस तरह संभालते हैं-उल्लेखनीय सफलता और विनम्रता के साथ.’

Loading...

Join us at Facebook