‘पकौड़ा पॉलिटिक्स’ के बीच सामने अाया ये शख्स, राष्ट्रहित में करने जा रहा नेक काम

मुंबई के वड़ा पाव विक्रेता मंगेश अहिवाले एक बार फिर से अपने अच्छे कामों के लिए सुर्खियों में हैं। इस बार मंगेश मंगावले ने अपनी एक दिन की कमाई को सैनिकों के कल्याण के लिए रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण को देने का शपथ लिया है। हालांकि ये पहली बार नहीं है जब उन्होंने मानव कल्याण और देश के लिए इस तरह के मानवता का परिचय दिया हो, इससे पहले भी वो इस तरह के नेक काम कर चुके हैं। आज की तारीख में वे कई भारतीयों के लिए प्रेरणास्रोत बन कर उभरे हैं। 30 जनवरी को महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर उन्होंने एक नेक फैसला किया।

वड़ा पाव के दाम में की कटौती

अपने इस चैरिटेबल फैसले के लिए अहिवले ने मंगलवार को ग्राहकों के लिए वड़ा पाव के दामों में 60 फीसदी की कटौती कर दी। उनका कहना था कि उसने वड़ा पाव के दाम इसलिए कम कर दिए ताकि सभी लोग इसे खरीदने में सक्षम हों। जानकारी के मुताबिक, जो वड़ा पाव वे 14 रुपए में बेचते थे वे उन्हें 5 रुपए में बेचे।

एक दिन की कमाई सेना को समर्पित

अहिवले ने मीडिया से बातें करते हुए कहा, सैनिकों के कल्याण की दिशा में मेरी तरफ से ये एक छोटी सी शुरुआत है ताकि इसके बाद लोग देश की सीमा पर तैनात हमारी सेना का सम्मान करें। हमने वड़ा पाव का मूल्य घटा कर 5 रुपए कर दिया है ताकि गरीब से गरीब भी इसे खरीद सके। उन्होनें आगे कहा कि इस तरह से एक दिन की पूरी कमाई बुधवार तक रक्षा मंत्री को वे भेज देंगे।

Loading...