इंडिया ओपन मुक्केबाजी टूर्नामेंट आज से शुरू

नई दिल्ली। भारत के सबसे बड़े इंडिया ओपन मुक्केबाजी टूर्नामेंट रविवार से यहां त्यागराज स्टेडियम में शुरु होगा। एक लाख डॉलर के इनामी राशि वाले इस प्रतियोगिता में 22 देशों के 223 मुक्केबाज हिस्सा लेंगे। भारत भी इस प्रतियोगिता में अपनी उपस्थिति मजबूती से पेश कर रहा है और इसमें कुल 80 मुक्केबाजों को उतार रहा है।

पुरुष वर्ग में भारत की चार टीमें हिस्सा ले रही हैं जबकि महिला वर्ग में पांच टीमें भाग ले रही हैं। देश के मुक्केबाजी प्रेमियों को दुनिया भर में मुक्केबाजी का’बिग डैडी’कहे जाने वाले क्यूबा के मुक्केबाजों को खेलते हुए देखने का मौका मिलेगा।

बीते कुछ सालों में क्यूबाई मुक्केबाजी में फिर से जान लौटी है। इस बीच मुक्केबाजी ने जर्मनी और इटली जैसे यूरोपीय देशों में तेजी से पैर पसारे। हाल के वर्षों में अमेरिका, कनाडा, रूस, कजाकिस्तान और उजबेकिस्तान ने भी कुछ बेहतरीन मुक्केबाज दुनिया को दिए हैं।

भारतीय मुक्केबाजी संघ के अध्यक्ष अजय भसह ने कहा, यह भारत का सबसे बड़ा मुक्केबाजी टूर्नामेंट है और हमारे देश के मुक्केबाजी प्रशंसकों को अपने घर में दुनिया के बेहतरीन मुक्केबाजों को देखने का मौका मिलेगा। मुझे यकीन है कि भारत इस टूर्नामेंट में पदक जीतेगा और विश्व मुक्केबाजी में अपनी साख बनाने का प्रयास करेगा।

प्रत्येक स्वर्ण पदक के बदले खिलाडिय़ों को 2500 डॉलर मिलेंगे जबकि रजत जीतने वाले खिलाडिय़ों को 1000 डॉलर मिलेंगे। इसके अलावा कांस्य जीतने वाले खिलाडिय़ों को 500 डॉलर का पुरस्कार मिलेगा। पुरुष वर्ग में 11 वर्ग है जबकि महिला वर्ग में 10 वर्ग में मुकाबले होंगे।

Loading...