जब कटा भाजपा सांसद का बिजली कनेक्शन, तो जेई को उठा ले गया प्रतिनिधि

लखनऊ। बकाएदारों के खिलाफ लखनऊ इलेक्ट्रिसिटी सप्लाई एडमिनिस्ट्रेशन (लेसा) के अभियान पर सांसद कौशल किशोर और एमडी की कहासुनी का मामला अभी ठंडा भी न हुआ था कि अब एक और मामला सामने आ गया।

इस बार भाजपा के संत कबीर नगर के सांसद शरद त्रिपाठी के इंदिरानगर स्थित घर की बिजली का कनेक्शन 20 हजार रुपये का बिल बकाया होने पर कट गया। इस पर उनके प्रतिनिधि प्रेम सिंह ने मुंशी पुलिया स्थित लेसा के बिजली केंद्र पर धावा बोल दिया। पहले प्रतिनिधि ने अधिशासी अभियंता को फोन पर धमकी भी दे डाली। इसके बाद बिजली घर से जेई को सांसद के घर उठा ले गया।

सांसद शरद त्रिपाठी इंदिरानगर के सेक्टर 13 मकान नंबर 13/177 में किराए पर रहते हैं। इस मकान का बिल अप्रैल से जमा ही नहीं हुआ है जो कि बढ़कर अब 20 हजार रुपये हो गया है। लेसा की टीम पहले अक्टूबर में बकाया जमा कराने गई लेकिन, कोई नहीं मिला। इसके बाद पिछले महीने भी लेसा के कर्मचारी पहुंचे थे। दो दिन पहले लेसा ने उनके घर की बिजली काट दी। शनिवार को सांसद के प्रतिनिधि प्रेम सिंह मुंशी पुलिया बिजली घर पहुंच गए।

प्रेम सिंह खुद को गोरखपुर विवि का पूर्व अध्यक्ष बताते हुए सांसद की बिजली काटे जाने का विरोध करने लगे। उसने अधिशासी अभियंता अनूप कुमार सिंह को फोन किया। प्रेम सिंह इस बात से नाराज था कि बिजली काटने से पहले फोन पर इसकी सूचना क्यों नहीं दी गई। जबकि दूसरी तरफ अधिशासी अभियंता यह बताते रहे कि स्टाफ को बताया गया है कि सांसद और विधायक के बिजली का बिल बकाया होने पर उनको सूचित किए बिना बिजली नहीं काटी जाएगी। 

जी न कहने पर चढ़ा पारा

प्रेम सिंह का पारा अधिशासी अभियंता के सांसद के आगे जी न लगाने पर चढ़ गया। अभद्रता करते हुए प्रेम सिंह ने कहा कि आप सांसद से मिलने आओगे या वह खुद आएंगे। इसके बाद अधिशासी अभियंता न मिला तो प्रेम सिंह मुंशी पुलिया बिजली केंद्र से जेई बालकृष्ण को उठा ले गया। बालकृष्ण के मुताबिक वह सांसद के घर गया और अपने परिचित के भाजपा में होने की बात कही।

इसके बाद ही किसी तरह उसे छोड़ा गया। प्रेम सिंह के मोबाइल नंबर से एक बार और अधिशासी अभियंता को फोन आया। इस बार बताया गया कि संत कबीरनगर के सांसद महोदय बात करेंगे। बात करने वाले ने सीधे कहा कि एक्सईएन तुम मुझसे मिलने आओगे या फिर मैं तुमसे मिलने आऊं। अधिशासी अभियंता अनूप कुमार सिंह ने बताया कि सांसद के घर का अप्रैल से बिजली का 20 हजार रुपये का बिल बकाया था।

उनके घर कई बार लेसाकर्मी गए लेकिन कोई जवाब नहीं मिला। घर के सामने उनके नाम का बोर्ड नहीं था इसलिए जब कर्मचारी इलाके में गए तो बकाया होने पर बिजली काट दी। इससे उनके प्रतिनिधि आज बिजली घर पहुंचे। वह जेई को अपने साथ ले गए जबकि मुझे फोन पर धमकी दी और गंदी गालियां भी। इस मामले से उच्च अधिकारियों को अवगत करा दिया गया है। रविवार को मामला पुलिस में दर्ज कराया जाएगा।

 
Loading...