मथुरा में पुलिसकर्मियों की गोली से बच्चे की हुई मौत, सरकार ने दी पांच लाख सहायता राशि

मथुरा। हाईवे पुलिस की चेतक पर गए दो पुलिसकर्मियों ने बुधवार को गांव मोहनपुर में फायरिंग कर दी। गोली आठ वर्षीय बालक के सिर पर लगी, जिससे उसकी मौत हो गई। फायरिंगरग के बाद दोनों पुलिसकर्मियों को ग्रामीणों ने पकडऩे की कोशिश की, लेकिन वे भाग निकले। घटना से आक्रोशित ग्रामीणों ने जमकर हंगामा किया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शोक व्यक्त करते हुए मृतक बालक के परिवारीजन को पांच लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है।मामले की जांच आइजी आगरा जोन करेंगे।

थाना हाईवे के चेतक में तैनात दो पुलिस कर्मी बुधवार दोपहर को मोहनपुर गए थे। दोनों अमरनाथ के मकान के बाहर बैठ गए। ग्रामीणों ने उनसे कारण पूछा, लेकिन उन्होंने नहीं बताया। करीब 4.30 बजे अमरनाथ का आठ वर्षीय पुत्र माधव सड़क पर खेल रहा था। इसी बीच दोनों पुलिसकर्मियों ने तीन-चार राउंड गोलियां दाग दीं। एक गोली माधव के सिर को चीरकर निकल गई। यह देख पुलिसकर्मी भागने लगे, तो ग्रामीणों ने उन्हें घेरा, लेकिन दोनों फायङ्क्षरग करते हुए भाग गए।

इसी बीच थाना हाईवे की यूपी-100 पुलिस गांव पहुंची, वह घायल बच्चे को मथुरा लाई, लेकिन बालक को हाईवे पर उतारकर भाग गई। इस बीच बालक ने दम तोड़ दिया। इससे ग्रामीण आक्रोशित हो गए और उन्होंने प्रदर्शन शुरू कर दिया। अस्पताल पहुंचे एसपी सिटी श्रवण कुमार का कहना है कि कौन पुलिसकर्मी थे, इसकी अभी डिटेल नहीं मिली है। मामले के बारे में पता किया जा रहा है। 

Loading...