ब्रिटिश स्कूल की मांग, कहा- सरकार लगाए बच्चों के हिजाब और रोजे पर बैन

ब्रिटेन के सरकारी सहायता प्राप्त एक बड़े स्कूल ने सरकार से मांग की है कि बच्चों के हिजाब और रमजान में रोजा रखने पर प्रतिबंध लगाया जाए। पूर्वी लंदन के न्यूहैम में स्थित सेंट स्टीफेंस स्कूल ने 2016 में आठ साल से कम उम्र की लड़कियों का हिजाब बैन कर ऐसा करने वाला ब्रिटेन का पहला स्कूल बन गया था।
स्कूल सितंबर, 2018 से 11 साल तक की लड़कियों के हिजाब को बंद करना चाहता है। स्कूल अपने परिसर के भीतर रोजे पर भी प्रतिबंध चाहता है। इस स्कूल में ज्यादातर भारत, पाकिस्तान और बांग्लादेश मूल के बच्चे पढ़ते हैं।

भारतीय मूल की प्रिंसिपल नीना लाल ने मांग की कि सरकार साफ दिशा-निर्देश जारी करे, ताकि इस मुद्दे पर अभिभावकों के साथ विवाद न हो। स्कूल के गवर्नर्स के चेयरमैन आरिफ के मुताबिक कुछ परिवारों ने इस फैसले की आलोचना की है, लेकिन ज्यादातर परिवार खुश हैं।

हम रोजे पर प्रतिबंध नहीं लगा रहे हैं। सिर्फ चाहते हैं कि बच्चे छुट्टी के दिन रोजा रखें, स्कूल कैंपस में नहीं क्योंकि बच्चों की सेहत और सुरक्षा की जिम्मेदारी हमारी होती है। 

 
Loading...