अनुकृति बनीं ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ की ब्रांड एंबेसडर

देहरादून : मिस इंडिया ग्रैंड इंटरनेशनल एवं टीवी एंकर अनुकृति गुसाईं उत्तराखंड में सरकार की ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ अभियान की ब्रांड एंबेसडर बन गई हैं। हालांकि, इसका अधिकारिक एलान होना बाकी है, लेकिन अनुकृति ने मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के इस प्रस्ताव को मंजूर कर लिया है। गुसाईं ने कहा कि इस अभियान के साथ ही वह राज्य के पर्वतीय क्षेत्रों से लगातार हो रहे पलायन रोकने के लिए भी काम करेंगी। 

महिला आयोग की ओर से आयोजित राष्ट्रीय कार्यशाला में मुख्यमंत्री ने अनुकृति के समक्ष ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ अभियान में उत्तराखंड सरकार का ब्रांड एंबेसडर बनने का प्रस्ताव रखा। जिसे अनुकृति ने सहर्ष स्वीकार किया। सरकार की ओर से बाकी औपचारिकताएं शीघ्र ही पूरी करने की बात मुख्यमंत्री ने कहीं। 

इस अवसर पर अनुकृति ने कहा कि पहाड़ की बेटियों के पास प्रतिभा, व्यक्तित्व व क्षमता पर्याप्त है। जरूरत है तो इस बात की उन्हें आगे बढऩे के अवसर मिलें। उन्होंने कहा कि वह ‘बेटी बचाओ अभियान’ के साथ जुड़कर गौरव महसूस कर रही हैं। उन्होंने कहा कि अभियान के तहत राज्य का दौरा भी करेंगी और आमजन को बेटियों के प्रति जागरूक भी करेंगी।

उन्होंने गढ़वाली गीत ‘दैंणा हुयां खौली का गणेशा रे’ प्रस्तुत कर सभी का दिल जीत लिया। मुख्यमंत्री रावत ने कहा कि अनुकृति की उपलब्धियां युवा वर्ग के लिए प्रेरणास्रोत हैं। इसलिए सरकार ने इस अभियान के लिए उन्हें चुना। बता दें कि अनुकृति गुसाईं मिस इंडिया ग्रैंड इंटरनेशनल के साथ ही एक सफल मॉडल और टीवी एंकर भी हैं। हाल ही में अपनी शादी को लेकर वह भी चर्चा में हैं। उनकी शादी काबीना मंत्री हरक सिंह रावत के बेटे तुषार रावत के साथ तय हुई है।

Loading...