अभी अभी : यशवंत सिन्हा ने पार्टी को लेकर कहा कुछ ऐसा, बोले- अब नहीं रही अटल-आडवाणी की भाजपा…

वरिष्ठ भाजपा नेता यशवंत सिन्हा ने एक बार फिर पार्टी नेतृत्व पर सवाल उठाया है। उन्होंने कहा कि यह पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी और लालकृष्ण आडवाणी वाली भाजपा नहीं है। देश बदल रहा है और सत्ताधारी भाजपा भी। अब तो मेरे जैसे लोग भी पार्टी नेताओं से नहीं मिल पाते।

सिन्हा ने कहा कि 13 महीने पहले हमने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने का वक्त मांगा था लेकिन, आज तक समय नहीं मिला। पूर्व केंद्रीय वित्तमंत्री ने मंगलवार को मुंबई के जहांगीर आर्ट गैलरी में उद्योगपति एवं वन्यजीव फोटोग्राफर कमल मोरारका की फोटो प्रदर्शनी का उद्घाटन किया। इस दौरान उन्होंने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि भाजपा नेतृत्व के बदल जाने से बहुत सारे पुराने कार्यकर्ता दुखी हैं क्योंकि अब वे अपने नेताओं से ही नहीं मिल पाते। 

सही तस्वीर नहीं पेश करते सरकार के आंकड़े

वरिष्ठ भाजपा नेता ने कहा कि मैंने सात बार देश का बजट पेश किया है, अपने अनुभव के आधार पर कह रहा हूं कि टैक्स सिस्टम के साथ छेड़छाड़ भारी पड़ रही है। अब वक्त निकल गया है। केंद्र सरकार के पास केवल एक बजट पेश करने का मौका है। एक तरफ जहां वैश्विक अर्थव्यवस्था तेजी पर है, वहीं दूसरी ओर हमारी अर्थव्यवस्था लगातार गिर रही है।  

यशवंत सिन्हा ने कहा कि सरकार के द्वारा जो आंकड़े पेश किए जा रहे हैं, वह अर्थव्यवस्था की सही तस्वीर नहीं पेश करते। नोटबंदी और फिर जीएसटी से असंगठित क्षेत्र बुरी तरह प्रभावित हुआ है। इन क्षेत्रों के आंकडे़ हमारे पास उपलब्ध नहीं है। यही वजह है कि अर्थव्यवस्था की खराब स्थिति का अंदाजा नहीं लगाया जा सकता है। वास्तविकता यही है कि अर्थव्यवस्था की स्थिति खराब है।

तस्वीरों के जरिये मोदी सरकार पर निशाना

पूर्व केंद्रीय मंत्री सिन्हा ने कमल मोरारका द्वारा खींची गई तस्वीरों की प्रशंसा के साथ मोदी सरकार पर परोक्ष रूप से निशाना साधा। उन्होंने कहा कि जानवर अकारण किसी को नुकसान नहीं पहुंचाते जबकि हम बिना किसी कारण के अपने देश का चरित्र नष्ट कर रहे हैं। इस मौके पर पूर्व सांसद संतोष भारतीय, वरिष्ठ पत्रकार प्रीतिश नंदी एवं ऑल इंडिया एसोसिएशन ऑफ इंडस्ट्री के अध्यक्ष विजय कलंत्री आदि मौजूद थे।

 
 
Loading...