Tuesday , November 24 2020

धोनी के इस सवाल पर भड़के विराट, कहा- उन्हें निशाना क्यों बना रहे हैं लोग

वर्षा बाधित 8-8 ओवरों का मुकाबला जीतकर भारत ने न्यूजीलैंड को टी-20 सीरीज में शिकस्त दी. मंगलवार रात तिरुवनंतपुरम टी-20 में टीम इंडिया ने न्यूजीलैंड पर 6 रनों से रोमांचक जीत हासिल की. भारत के खिलाफ अजेय चल रहे कीवियों ने पहली बार टी-20 सीरीज में 1-2 से हार का स्वाद चखा. इसके साथ ही कप्तान विराट कोहली ने इस साल एक और सीरीज पर कब्जा कर लिया.धोनी के इस सवाल पर भड़के विराट, कहा- उन्हें निशाना क्यों बना रहे हैं लोग

मैच के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में विराट कोहली काफी खुश नजर आ रहे थे. लेकिन एक सवाल ने उन्हें फिर नाराज कर दिया. जब कप्तान कोहली से एक पत्रकार ने महेंद्र सिंह धोनी के मौजूदा फॉर्म और टीम में जगह को लेकर सवाल किया, तो उन्होंने अपने पूर्व कप्तान का जमकर बचाव किया.

विराट ने कहा, ‘मुझे समझ नहीं आता लोग सिर्फ उन पर (धोनी) पर उंगली क्यों उठा रहे हैं. अगर मैं तीन मैच में रन न बनाऊं, तो मेरे ऊपर कोई उंगली नहीं उठाएगा, क्योंकि मैं 35 साल का नहीं हूं, तो उनके साथ ऐसा क्यों? राजकोट में उस समय स्थिति ऐसी थी, कि अगर हार्दिक पंड्या बल्लेबाजी के लिए आते, तो वो भी रन नहीं बना सकते थे. किसी को भी धोनी पर सवाल उठाने का कोई हक नहीं है.’

धोनी फिट हैं और उन्होंने सारे फिटनेस टेस्ट पास किए हैं

विराट ने कहा, ‘वह (धोनी) फिट हैं और उन्होंने सारे फिटनेस टेस्ट पास किए हैं. वह हर संभव तरीके से टीम के लिए योगदान दे रहे हैं. फिर चाहे रणनीतिक तौर पर हो या बल्लेबाजी से. अगर आप श्रीलंका और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेली गई सीरीज को देखें, तो उन्होंने बेहतरीन प्रदर्शन किया था.’

जरूरी नहीं हैं कि वह हर बार बेहतर प्रदर्शन कर पाएं

कोहली ने कहा कि लोग लगातार एक ही इंसान पर निशाना साधते जा रहे हैं, जो सही नहीं है. धोनी टीम में अपनी भूमिका और खेल को बेहतर तरीके से जानते हैं. हालांकि, जरूरी नहीं हैं कि वह हर बार बेहतर प्रदर्शन कर पाएं. दिल्ली के टी-20 मैच में उन्होंने आते ही जो छक्का मारा था, उसे मैच के बाद कई बार दिखाया गया. हर कोई खुश था और अब अचानक अगर वह एक मैच में अच्छा स्कोर नहीं कर पा रहे हैं, तो सभी उनके पीछे ही पड़ गए हैं. 

…लोगों को थोड़ा धैर्य रखना चाहिए

उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि लोगों को थोड़ा धैर्य रखना चाहिए. धोनी एक ऐसे खिलाड़ी हैं, जो क्रिकेट के हर प्रारूप की समझ रखते हैं. वह एक समझदार इंसान हैं. वह हर प्रारूप में अपनी भूमिका को अच्छे से पहचानते हैं. इसलिए, मुझे नहीं लगता कि किसी और को उनके जीवन का फैसला लेने का हक है.’

दरअसल, सीरीज के दूसरे मैच में टीम इंडिया को राजकोट में कीवियों ने हराया था. इसके बाद धोनी की बल्लेबाजी को लेकर सवाल उठने लगे हैं. पूर्व तेज गेंदबाज अजीत अगरकर ने सबसे पहले इस बात को हवा दी कि क्या अब भी धोनी को टी-20 खेलते रहना चाहिए. वीवीएस लक्ष्मण ने भी ये बयान दिया कि अब वक्त आ गया है कि धोनी युवाओं के लिए टीम में जगह बनने दें.

वीरेंद्र सहवाग ने भी इशारों-इशारों में धोनी की बल्लेबाजी पर प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने सीधे सवाल उठाने के बजाय टीम प्रबंधन को सलाह दी है कि वो धोनी को टी-20 में उनकी भूमिका के बारे में बताए. सहवाग ने महेंद्र सिंह धोनी को सलाह दी कि बड़े लक्ष्य का पीछा करते हुए पहली गेंद से ही पीटना शुरू करें और भारतीय टीम प्रबंधन से भी कहा कि दबाव में चल रहे पूर्व कप्तान को टी-20 टीम में उनकी भूमिका के बारे में बताए.

धोनी ने न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरे टी-20 मैच में 37 गेंदों में 49 रन बनाए, लेकिन टीम में उनके चयन को लेकर सवाल उठने लगे हैं. सहवाग ने एक न्यूज चैनल से बातचीत में कहा, ‘धोनी को टीम में अपनी भूमिका समझनी होगी, उन्हें बड़े स्कोर का पीछा करते हुए शुरू ही में तेजी से रन बनाने होंगे. टीम प्रबंधन को उन्हें इस बारे में बताना होगा.’

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com