अभी अभी : अखिलेश यादव ने दिया बड़ा बयान, कहा- लालू प्रसाद यादव के साथ अन्याय कर रही है भाजपा

लखनऊ । समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव आज अपने रिश्तेदार तथा चारा घोटाला घोटाले में जेल में बंद लालू प्रसाद यादव के पक्ष में खुलकर बोले। उन्होंने लालू प्रसाद यादव को सजा के मामले में भारतीय जनता पार्टी पर गंभीर आरोप भी जड़ दिया। 

अखिलेश यादव ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी तो लालू प्रसाद यादव के साथ अत्याचार कर रही है। उनके साथ घोर अन्याय हो रहा है। अखिलेश यादव ने पत्रकारों से संवाद कार्यक्रम में कहा कि लालू प्रसाद यादव एक पार्टी के अध्यक्ष होने के साथ पूर्व केंद्रीय मंत्री तथा बिहार के मुख्यमंत्री रहे हैं। उनके साथ भाजपा ने बेहद ही अन्याय किया है। अखिलेश ने कहा कि भाजपा सिर्फ अपने आप को हर जगह पर सही साबित करने में लगी है। इनके मामले की सामने आएंगे। 

समाजवादी पार्टी के सरंक्षक मुलायम सिंह यादव के 2019 का लोकसभा चुनाव लडऩे की बाबत अखिलेश ने कहा कि नेता जी (मुलायम सिंह यादव) का कद इतना बड़ा है कि वह जहां से चाहें, लोकसभा चुनाव लड़ें। हम सब उनका प्रचार करेंगे। वह हर जगह से जीत दर्ज करने में माहिर हैं। 

उन्होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ सरकार सैफई की तर्ज पर गोरखपुर महोत्सव कर रही है। अब क्या यह लोग उन आरोपों का जबाब देने के काबिल हैं, जो भाजपा हम पर लगाती आ रही है। नोएडा अंधविश्वास पर अखिलेश यादव बोले कि नोएडा का असर एक या दो बार आने-जाने से नहीं दिखेगा। हमने तस्वीरों में देखा है कि मुख्यमंत्री मंत्री बटन नहीं दबा पाए। उन्होंने कहा कि दरअसल विकास का रास्ता ही खुशहाली का रास्ता है। समाज कैसे एक हो आज बड़ा मुद्दा यही है। हम सामाजिक समरसता के लिए लड़ेंगे। आज जो प्रदेश की सत्ता में हैं इन्होंने जाति धर्म के आधार पर समाज मे जहर घोल कर राजनीति करने का काम किया।

गौरतलब है कि चारा घोटाले के देवघर कोषागार से अवैध निकासी के मामले में केंद्रीय जांच ब्यूरो की विशेष अदालत ने राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को साढ़े तीन वर्ष की सजा सुनाई है। जब सीबीआई कोर्ट के विशेष जज शिवपाल सिंह ने फैसला सुनाया तो लालू मायूस हो गए।

लालू प्रसाद यादव रिश्ते में अखिलेश यादव के चचेरे भाई तेज प्रताप सिंह यादव के ससुर लगते हैं। सजा पर लालू प्रसाद यादव के सबसे छोटे दामाद तेजप्रताप ने कहा कि घोटाले के मामले में कौन सच्चा, कौन झूठा है। यह तो जतना तय करेगी। आज जो हुआ वो राजनैतिक रूप से प्रेरित था, बावजूद इसके हम कानूनी फैसला का स्वागत करते हैं। अभी हमारे पास हाईकोर्ट जाने का ऑप्शन खुला है। रही बात धोखा देने वालों की रास्ते और भी जवाब देने के लिए हैं।

लालू प्रसाद यादव की सबसे छोटी बेटे राजलक्ष्मी की शादी मुलायम सिंह के स्वर्गवासी भाई रतन सिंह यादव के पोते से 26 फरवरी 2015 को हुई थी। मौजूदा वक्त में तेजप्रताप सिंह यादव मैनपुरी से सांसद है। तेज प्रताप सिंह यादव सपा के मुखिया अखिलेश यादव के चचेरे भाई लगते हैं।

राजलक्ष्मी से शादी करने के लिए तेज प्रताप दो चार्टर्ड प्लेन के साथ बरात लेकर गए थे। एक 35 सीटर प्लेन भी बरात में शामिल था। शादी दिल्ली में हुई थी, जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ पूर्व पीएम मनमोहन सिंह भी शामिल हुए थे।

 
Loading...