INDvSA : हार्दिक पांड्या ने बरकरार रखी भारत की उम्मीदें

केपटाउन। हार्दिक पांड्या के ऑलराउंडर प्रदर्शन की बदौलत भारत की पहले टेस्ट मैच के दूसरे दिन दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मैच में वापसी की उम्मीदें कायम हैं। हार्दिक पांड्या की (95 गेंदों पर 93 रन) की अर्धशतकीय पारी और भुवनेश्वर कुमार (86 गेंदों पर 25 रन) की पारी की मदद से भारत पहली पारी में 209 का स्कोर खड़ा करने में सफल रहा। इसके बाद हार्दिक पांड्या ने दक्षिण अफ्रीका की दूसरी पारी में दो विकेट केवल 65 रन पर ही निकालकर मैच में भारत की वापसी करवा दी है। 

अपनी पहली पारी में 286 रन बनाने वाले दक्षिण अफ्रीका ने इस तरह से 77 रन की बढ़त बनाई। उसने दूसरे दिन का खेल समाप्त होने तक दो विकेट पर 65 रन बनाए हैं। इस तरह से उसकी कुल बढ़त 142 रन की हो गई है। सही मायनों में खेल का दूसरा दिन पंड्या का नाम रहा। उन्होंने बेपरवाह बल्लेबाजी करके 14 चौके और एक छक्का लगाया और इसके बाद गेंदबाजी में कमाल दिखाकर दक्षिण अफ्रीका के दोनों सलामी बल्लेबाजों को पवेलियन भेजा। उन्होंने अब तक चार ओवर में 17 रन देकर दो विकेट लिए हैं।

दक्षिण अफ्रीका ने दूसरी पारी में सहज शुरूआत की। एडेन मर्कराम (34) ने रन बनाने का बीड़ा उठाया जबकि पहली पारी में तीसरी गेंद पर आउट होने वाले डीन एल्गर (25) ने विकेट बचाए रखने को तरजीह दी। इन दोनों ने लगभग एक घंटे तक भारत को सफलता से वंचित रखा। आखिर में पांड्या ही भारत के बचाव में आगे आए जिन्होंने 11वें ओवर में दूसरे बदलाव के रूप में गेंद संभाली और अपने तीसरे ओवर में टीम को सफलता दिलाई। 

इससे पहले भारत ने सुबह तीन विकेट पर 28 रन से पारी आगे बढ़ाई और पहले सत्र में 25 ओवरों में केवल 48 रन बनाए और इस बीच एक विकेट गंवाया। दूसरा सत्र शुरू में दक्षिण अफ्रीका के नाम रहा, लेकिन बाद में पांड्या ने उसे अपने नाम किया। भारत ने उनकी आक्रामक पारी से इस सत्र में 109 रन जोड़े और इस बीच तीन विकेट गंवाए।

 जब लग रहा था कि वह सातवें नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए विदेशी धरती पर शतक जडऩे वाले सातवें भारतीय बल्लेबाज बन जाएंगे तब कैगिसो रबादा की अधिक उछाल लेती गेंद उनके बल्ले के ऊपरी किनारे से लगकर डिकॉक के दस्तानों में समा गई। इससे पहले सुबह भारत ने पहले सत्र की बेहद सतर्क शुरूआत की। चेतेश्वर पुजारा (92 गेंदों पर 26 रन) और रोहित शर्मा (59 गेंदों पर 11 रन) ने संयम की प्रतिमूर्ति बनकर विरोधी गेंदबाजों को काफी सताया। 

Loading...