Wednesday , December 2 2020

अभी अभी हुआ बड़ा खुलासा: कमला मिल्स अग्निकांड में अवैध हुक्कों के द्वारा उठी चिंगारी से लगी थी आग…

मुंबई : 29 दिसंबर की रात कमला मिल्स कंपाउंड में लगी भीषण आग के मामले में मुंबई फायर ब्रिगेड ने दावा किया है कि यह आग हुक्के से उठी चिंगारी के कारण लगी थी.

हुक्के मोजोज रेस्टोरेंट में सर्व किए जाने के लिए तैयार किए जा रहे थे. मोजोज रेस्टोरेंट से शुरू हुई आग धीरे-धीरे पूरे फ्लोर पर फैल गई और दूसरे पब 1-Above को भी इसकी चपेट में ले लिया. इस अग्निकांड में 14 लोगों की मौत हुई थी और करीब 50 लोग घायल हुए थे. रिपोर्ट में कहा गया है कि कंपाउंड में स्थित दोनों पबों में अवैध रूप से निर्माण के साथ-साथ नियमों का उल्लंघन किया जा रहा था, क्योंकि हुक्का पार्लर का किसी के भी पास लाइसेंस नहीं था. आग लगने के समय हुक्के वहां मौजूद ग्राहकों को बांटने के लिए तैयार किए जा रहे थे, तभी किसी हुक्के से चिंगारी उठी और आग में बदल गई.

फायर ब्रिगेड ने पेश की जांच रिपोर्ट : पुलिस ने बताया कि हुक्कों में आग देने के लिए सुलगे कोयलों को पंखे से हवा देकर जलाया जा रहा था. उसी दौरान चिंगारी उड़ कर वहां लगे पर्दों में लग गई. पुलिस ने बताया कि पब के निकासी गेट में सामान भरा हुआ था, इसलिए लोग आग से बचने के लिए केवल लिफ्ट के भरोसे थे और लिफ्ट को आग के कारण बंद कर दिया गया था. जांच रिपोर्ट में बताया गया कि रेस्टोरेंट में खाना बनाने के लिए जो उपकरण आग के लिए इस्तेमाल किए जा रहे थे, वह भी अबैध थे और आग बुझाने के लिए रखे गए यंत्र भी बेकार थे. फायर ब्रिगेड ने अपनी जांच रिपोर्ट में कहा है कि रेस्टोरेंट और पब में जिस सजावटी सामान का इस्तेमाल किया गया था, वे ऐसे थे जो आग को बहुत जल्दी पकड़ते हैं और जलने पर भारी मात्रा में कार्बन डाई ऑक्साइड और कार्बन मोनो ऑक्साइड गैसे निकलती है.

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com