Saturday , December 5 2020

दीपिका पादुकोण: अपनी गलतियों से लगातार सीख रही हूं

बॉलिवुड अभिनेत्री दीपिका पादुकोण का आज जन्मदिन है। इन दिनों वह बेसब्री से अपनी विवादों में उलझी फिल्म पद्मावती की रिलीज़ का इन्तजार कर रही हैं। हाल ही में फिल्म के प्रमोशनल इंटरव्यू के दौरान दीपिका ने बताया कि उन्होंने कभी सीखना बंद नहीं किया। वह अपनी गलतियों और लोगों की सलाह से लगातार सीखती रहती हैं।दीपिका पादुकोण: अपनी गलतियों से लगातार सीख रही हूं

 फिल्म इंडस्ट्री में एक दशक पूरे कर चुकीं दीपिका अपनी इस जर्नी पर कहती हैं, ‘जिस दीपिका का सफर ‘ओम शांति ओम’ से शुरू हुआ था, आज भी मैं वही दीपिका हूं। मैंने अपने इस सफर को हर पल जिया है। मैं जानती हूं कि पहले मैं क्या थी और अब मैं किस दिशा में चल रही हूं, मैं लगातार सीख रही हूं, मुझे सीखने का शौक शुरू से ही रहा है, मैं तब भी अपनी गलतियों और लोगों की सलाह से सीखती थी और मैं आज भी उसी तरह सीखती हूं।’ 

दीपिका आगे कहती हैं, ‘कुछ नया सीखते हुए खुद पर लगातार सुधार करते रहना चाहती हूं। यदि लोगों को मुझमें कोई कमी नजर आई है तो मैंने उस कमी पर फोकस कर दूर करने की कोशिश की है। मैं हमेशा कुछ नया और अलग करने की कोशिश करती रहती हूं, मेरी यह कोशिश समय के साथ आगे भी जारी रहेगी, यही मेरी खुद से एक कलाकार के तौर पर बात होती है।’ 

अपनी फिल्म पद्मावती के किरदार के बारे में बताते हुए दीपिका ने कहा, ‘यह किरदार बेहद चुनौतीपूर्ण रहा है। रानी पदमिनी बुद्धिमान, साहसी और तीव्रता से भरी महान महिला थीं, उन्होंने अपने समुदाय के लिए बहुत कुछ किया, जिसकी वजह से आज उनकी पूजा की जाती है। उनकी जिंदगी में काफी उतार-चढ़ाव आए, जिसका उन्होंने साहस के साथ सामना किया। किरदार निभाने के लिए उसी अदम्य साहस को अपने भीतर उताराना, उसी इमोशन को लगातार एक साल तक पकड़ कर रखना काफी मुश्किल होता है, इससे इमोशनली आप बहुत ज्यादा कमजोर हो जाते हैं, थक भी जाते हैं… लेकिन एक ऐक्टर के तौर पर अच्छा भी लगता है जब हमें चुनौतीपूर्ण फिल्म और किरदार में काम करने का मौका मिलता है। सच कहूं तो… मैं अभी भी उस किरदार से पूरी तरह निकल नहीं पाई हूं। कहीं न कहीं मैं रानी पदमिनी के गुणों और मूल्यों से खुद को रिलेट भी करती हूं।’ 

विवादों में उलझी होने की वजह से तैयार फिल्म अब तक रिलीज़ नहीं हो पाई है, रिलीज़ की कोई निश्चित डेट भी तय नहीं है , प्रशासन से क्या कहेंगीं। इस सवाल के जवाब में दीपिका कहती हैं, ‘प्रशासन से मैं यही कहूंगी कि अभिव्यक्ति की आजादी हो। जो भी कहानी हम कहना चाहते हैं, दर्शाना चाहते हैं, जो संदेश हम लोगों तक पहुंचाना चाहते हैं, वह हम निडर हो कर कह सकें, मैं यह भी मानती हूं कि विरोध करना सबका हक होता है लेकिन एक फिल्म को देखने से पहले इस तरह की प्रतिक्रिया देना मेरे हिसाब से सही नहीं है।’ 

दीपिका आगे कहती हैं, ‘यदि फिल्म देखने के बाद लोगों को लगता है कि हमने फिल्म में सही नहीं दिखाया है या लोगों की भावनाओं को आहत किया है और उसके बाद वह इस तरह की प्रतिक्रिया देते तो मैं समझ सकती हूं… लेकिन फिल्म रिलीज़ न होने देना बहुत गलत बात है। प्रशासन से मुझे उम्मीद हैं कि सबकुछ जल्द ही ठीक हो जाएगा। हमने बहुत मेहनत, सच्चाई और ईमानदारी के साथ इस फिल्म को बनाया है। हमारा इंटेशन यही है कि रानी पदमिनी इतनी महान महिला थीं और जो कुछ भी उन्होंने अपने समुदाय के लिए किया वह हम भारत ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया को दिखाना चाहते हैं। मुझे पूरा विश्वास है फिल्म रिलीज़ होगी तो लोग उस पर गर्व करेंगे।

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com