Tuesday , November 19 2019

पेट की गैस से निजात चाहिए तो करे ये जरुरी बदलाव

अक्सर देखा गया है की लोह पेट में गैस की समस्या से परेशान रहते है खाना खाने के बाद पेट में गैस बन्न एक आम समस्या है जो की हमारे पाचन का ही एक भाग है इससे  ये जरुरी बदलाव करना जरुरी है  जैसे की अगर आपको सामान्‍य से ज्‍यादा गैस बनने लगी है तो इसका अर्थ है कि आपका खाना खाने का तरीका यानी ईटिंग हेबिट सही नहीं है। बहुत जल्‍दी-जल्‍दी खाना खाने, खाना खाते वक्‍त बहुत ज्‍यादा बाद करने, बिना ठीक से चबाए हुए खाना खाने से पेट में ज्‍यादा गैस बनने की समस्‍या हो सकती है। कुछ लोग टीवी देखते हुए खाना खाते हैं। यह खाना खाने का सबसे गलत तरीका है। इससे आपको यह पता ही नहीं चल पाता कि आपको भूख कितनी थी और आपने कितना खाना खाया।

ध्यान दे की अगर आप छोटी-छोटी बातों पर भी बहुत ज्‍यादा तनाव लेते हैं तो आपको पेट में ज्‍यादा गैस बनने की समस्‍या का सामना करना पड़ सकता है। तनाव के कारण हमारे मस्तिष्‍क से जो हॉर्मोन रिलीज होते हैं, वे हमारे मेटाबॉलिज्‍म को बहुत गहरे से प्रभावित करते हैं। जिससे खाना ठीक से पच नहीं पाता और कई तरह की समस्‍याएं होने लगती हैं। अगर आप देर से सोते हैं और देर से उठते हैं तो आपको पाचन संबंधी परेशानियों का सामना करना ही पड़ेगा। हमारे पाचन तंत्र पर सूर्य की रोशनी का बहुत प्रभाव पड़ता है। दिन ढलने के साथ ही पाचन शक्ति कमजोर होने लगती है और तनाव बढ़ाने वाले हॉर्मोन का स्‍तर बढ़ने लगता है। ऐसे में जरूरी है कि हम खुद को आराम दें। इसके उलट अगर हम रात बारह बजे के बाद भी जागते रहते हैं तो पेट में गैस बनने लगती है। यह सिर्फ एक दिन की समस्‍या नहीं है। इसका असर अगले कई दिनों तक रह सकता है। इसलिए अपनी नींद का समय निश्‍चित करें।

अपने मेटाबोलिज्म के अनुसार चुने खाना।  एक जैसा शरीर होने के बावजूद सभी का मेटाबॉलिज्‍म रेट अलग-अलग होता है। इसलिए जो फूड एक को सूट करता है, जरूरी नहीं कि दूसरे को भी सूट करे। सजग होकर भोजन ग्रहण करें और उस आहार की पहचान करें जिसके कारण आपके पेट में ज्‍यादा गैस बनती हैं। छोले, राजमा, गोभी, उड़द दाल ये कुछ ऐसे आहार हैं जो कुदरती रूप से ज्‍यादा गैस बनाते हैं। इसके अलावा फास्‍ट फूड, डीप फ्राइड चीजें, ज्‍यादा मसालें भी पेट में गैस बनाते हैं। इन्‍हें अपनी क्षमता के अनुरूप ही खाएं।

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com