आचार्य चाणक्य ने कहा है जानवरों से सीखनी चाहिए यह बातें

आचार्य चाणक्य को आप सभी जानते ही होंगे और उनके द्वारा कही जाने वाली उन बातों को भी जिनका पालन सभी को करना चाहिए. ऐसे में चाणक्य के अनुसार लिखा गया चाणक्य नीति ग्रंथ लोगों के बीच काफी मशहूर है और इसका पालन करने से सभी काम सफल हो जाते हैं. ऐसे में आज के समय में बड़े-बड़े राजनीतिज्ञ, दार्शनिक और विद्वान इनकी नीतियों को याद रखते हैं क्योंकि इनका नीति ज्ञान व्यवहारिकता पर आधारित है. अब आज हम आपको कुछ ऐसी बातें बताने जा रहे हैं जो हमे जानवरों से सीख लेनी चाहिर और उन्हें ध्यान में रखने से सफलता ही सफलता मिलती है. तो आइए जानते हैं इन बातों को. 

– चाणक्य नीति ग्रंथ में लिखा है सुनने से धर्म का ज्ञान होता हैं, द्वेष दूर होता है और ज्ञान की प्राप्ति होती है. इसी के साथ माया की आसक्ति भी दूर हो जाती है.

– चाणक्य नीति ग्रंथ में लिखा है कि शेर से सीखना चाहिए कि आप जो भी करना चाहते हो जिंदादिली और जबरदस्त प्रयास से करें.

– चाणक्य नीति ग्रंथ में लिखा है कि मुर्गे से हे चार बाते सीख सकते हैं पहली- सही समय पर उठें. दूसरी- नीडर बने. तीसरी- संपत्ति का रिश्तेदारों से उचित बटवारा करें और चौथी बात अपने कष्ट से अपना रोजगार प्राप्त करें.

– चाणक्य नीति ग्रंथ में लिखा है गधे से ये तीन बाते सीख सकते हैं पहली- अपना बोझा ढोना ना छोड़ें. दूसरी- सर्दी गर्मी की चिंता ना करें और तीसरी सदा संतुष्ट रहें.

– चाणक्य नीति ग्रंथ में लिखा है इन्द्रियों को बगुले की तरह वश में करें, यानी अपने लक्ष्य को जगह, समय और योग्यता का पूरा ध्यान रखते हुए पूर्ण करें.

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com