Saturday , February 27 2021

कुलभूषण जाधव: कौंसुलर ऐक्सेस की मांग करता रहेगा भारत

कुलभूषण जाधव की पत्नी और मां से मुलाकात के बाद भी भारत पाकिस्तानसे राजनयिक पहुंच देने की मांग जारी रखेगा। आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक, इस मामले में भारत का रुख स्पष्ट है कि पाकिस्तान ने बुनियादी न्यायिक अधिकार दिए बगैर ही जाधव को फांसी की सजा सुना दी है।

 सोमवार को जाधव के परिवार से मिलने से पहले पाकिस्तानी विदेश मंत्री ने यह कहा था कि इस मुलाकात में भारतीय उपउच्चायुक्त जे.पी. सिंह का मौजूद रहना कौंसुलर ऐक्सेस ही है। हालांकि, बाद में भारत के विरोध की वजह से पाकिस्तान अपने बयान से पलट गया था। 

आधिकारिक सूत्रों ने हमारे सहयोगी टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया कि भारत अपने इस रुख पर अब भी कायम है कि जाधव को अंतरराष्ट्रीय कानूनों की अनदेखी करते हुए फांसी सुनाई गई है और इस पूरे मामले में पाकिस्तान की स्थिति हास्यास्पद है। भारत ने जाधव की फांसी की सजा को सोची-समझी हत्या करार दिया था। 

भारतीय अधिकारियों के मुताबिक अंतरराष्ट्रीय न्यायालय ने भी जाधव की फांसी पर रोक लगाते समय यह कहा था कि विएना संधि के तहत भारत को कौंसुलर ऐक्सेस मिलना चाहिए। हालांकि, पाकिस्तान लगातार जाधव के पासपोर्ट का इस्तेमाल करके अपने दावों की पुष्टि करने में जुटा हुआ है। इस पासपोर्ट पर हुसैन मुबारक का नाम लिखा हुआ है। पाकिस्तान का कहना है कि जाधव भारतीय जासूस है। पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैजल ने सोमवार को जाधव की परिवार से मुलाकात के बाद कहा, ‘भारत की चुप्पी सब बयां कर रही है।’

हालांकि, भारत ने पाकिस्तान के जाधव को जासूस बताने वाले दावों को खारिज किया है। भारत का मानना है कि कुलभूषण जाधव को ईरान से पकड़ा गया जहां वह अपना कारोबार करने गए थे। 

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com