Sunday , November 29 2020

जाधव: आज होगी मां-पत्नी से मुलाकात, कौंसुलर ऐक्सेस पर पाकिस्तान के दावे को भारत ने बताया गलत

पाकिस्तान की जेल में बंद भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव के मुद्दे पर पूरी दुनिया को गुमराह करने वाला पड़ोसी मुल्क एक बार फिर वही हरकत कर रहा है। सोमवार को जाधव की अपनी पत्नी और मां की उनसे होने वाली मुलाकात से ठीक पहले पाकिस्तान दावा कर रहा है कि जाधव को भारत की ओर से राजनयिक मदद पहुंचाने की इजाजत दे दी गई है। पाकिस्तानी मीडिया के हवाले से सामने आए पाकिस्तान के इस दावे को भारत ने खारिज कर दिया है।

 दरअसल, जाधव से होने वाली मुलाकात के दौरान उनकी पत्नी और मां के साथ एक भारतीय अधिकारी जेपी सिंह भी मौजूद रहेंगे। जेपी सिंह इस्लामाबाद में भारतीय उप-उच्चायुक्त हैं। मुलाकात में जेपी सिंह की मौजूदगी को ही पाकिस्तान ‘राजनयिक पहुंच’ बता रहा है। पाकिस्तान के विदेश मंत्री ख्वाजा आसिफ मोहम्मद से एक स्थानीय चैनल ने जब पूछा कि क्या सोमवार की मुलाकात के दौरान जाधव तक राजयनिक पहुंच की मंजूरी दे दी गई है तो उन्होंने कहा, ‘हां’। आसिफ ने यह भी कहा, ‘अगर भारत हमारी जगह होता तो उसने हमें यह रियायत न दी होती।’ 
इधर भारत का कहना है कि जेपी सिंह सिर्फ जाधव की पत्नी और मां के साथ जा रहे हैं और इसे राजयनिक पहुंच नहीं माना जा सकता है। पीएमओ के राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह ने इसे लेकर पाकिस्तान पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि मानवीय आधार पर होने वाली इस मुलाकात को लेकर भी पाकिस्तान सिर्फ ड्रामा कर रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि पाकिस्तान को भारत का पक्ष मानने के लिए मजबूर होना पड़ा है। यह भारत की सफलता है। पाकिस्तान पूरी दुनिया के सामने एक्सपोज हो चुका है। 
बता दें कि दोपहर 1 बजे के करीब जाधव की पत्नी और मां पाकिस्तान विदेश मंत्रालय कार्यालय में उनसे मुलाकात करेंगी। यह मुलाकात करीब 15 मिनट की होगी। भारत की मांग है कि इस समय को बढ़ाकर कम से कम एक घंटा किया जाए। 

इसके पहले पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय प्रवक्ता मोहम्मद फैजल ने शनिवार को ट्वीट किया था, ‘भारत ने यह जानकारी दी है कि कमांडर जाधव की पत्नी और मां 25 दिसंबर को कमर्शल फ्लाइट से पाकिस्तान आएंगे और उसी दिन वापस भी चले जाएंगे। इस्लामाबाद में भारतीय उप-उच्चायुक्त उनके साथ राजदूत के तौर पर होंगे।’ फैजल ने मीडिया को यह भी बताया कि यह मीटिंग पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय में होगी और इस मुलाकात की फोटो-विडियो भी जारी किए जाएंगे। पाकिस्तान ने 20 दिसंबर को जाधव की मां और पत्नी को वीजा दिया था। 

47 वर्षीय कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने कथित जासूसी और आतंकवाद के आरोपों के तहत इसी साल अप्रैल में मौत की सजा सुनाई थी। इसके विरोध में भारत ने अंतरराष्ट्रीय न्यायायलय का दरवाजा खटखटाया था, जहां जाधव की फांसी पर आखिरी फैसले तक रोक लगा दी गई थी। पाकिस्तान लगातार जाधव को राजनयिक मदद पहुंचाने की भारत की अर्जी को भी खारिज करता आया है। 

पाकिस्तान का कहना है कि जाधव कोई साधारण आदमी नहीं है क्योंकि वह पाकिस्तान में जासूसी और आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने के मकसद से घुसा था। पाकिस्तान दावा करता है कि उसने जाधव को बलूचिस्तान से बीते साल 3 मार्च को गिरफ्तार किया था। हालांकि, भारत का कहना है कि पाकिस्तान ने जाधव को ईरान से पकड़ा है। 

 
Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com