Wednesday , August 17 2022

भारत के इस पड़ोसी देश में पेट्रोल- डीजल की बढ़ी कीमतें, पढ़े पूरी खबर

आर्थिक संकट से जूझ रहे पाकिस्तान की सरकार ने अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष (IMF) की तरफ से रखी गई शर्तों के अनुरूप पेट्रोलियम पदार्थों की कीमतों में भारी बढ़ोतरी कर दी है. यह फैसला लागू होने के बाद से सभी पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतों में करीब 14 से 19 रुपये प्रति लीटर तक की बढ़ोतरी हो गई है. सरकार ने यह कदम नकदी की कमी के बीच आईएमएफ की तरफ से 6 अरब डॉलर का राहत पैकेज बहाल करने की उम्मीद में उठाया है.

पाकिस्तान में बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम

पाकिस्तानी वित्त मंत्रालय की ओर से गुरुवार को जारी अधिसूचना के मुताबिक, सरकार ने पेट्रोल पर 10 रुपये प्रति लीटर और हाई-स्पीड डीजल (HSD), केरोसिन और हल्का डीजल तेल (LDO) पर पांच रुपये प्रति लीटर पेट्रोलियम शुल्क लगाया है. इसकी वजह से पेट्रोल की कीमत में 14.85 रुपये, एचएसडी में 13.23 रुपये, मिट्टी के तेल में 18.83 रुपये और एलडीओ में 18.68 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी हुई है. पाकिस्तान में पेट्रोल की एक्स-डिपो अब 248.74 रुपये प्रति लीटर, हाई-स्पीड डीजल (HSD) 276.54 रुपये, केरोसिन 230.26 रुपये और हल्का डीजल तेल (LDO) 226.15 रुपये हो गया है.

पेट्रोलियम उत्पादों में चौथी बार की गई बढ़ोतरी

गौरतलब है कि अप्रैल में सत्ता संभालने वाली शहबाज शरीफ सरकार के कार्यकाल में पेट्रोलियम उत्पादों में की गई यह चौथी बढ़ोतरी है. वित्त मंत्री मिफ्ताह इस्माइल ने कहा कि इमरान खान की अगुआई वाली पिछली सरकार के हस्ताक्षरित समझौतों से मुकर जाने के बाद चार महीने पहले निलंबित कर दिए गए आईएमएफ राहत कार्यक्रम को बहाल करने के लिए यह बढ़ोतरी की गई है

IMF का राहत पैकेज पाने की कोशिश में जुटा पाकिस्तान

आईएमएफ ने राहत पैकेज को दोबारा शुरू करने के लिए बिजली की दरों में बढ़ोतरी और पेट्रोलियम उत्पादों पर शुल्क लगाने जैसी सख्त पूर्व-शर्त रखी है. इन शर्तों को लागू करने के बाद आईएमएफ अपने कार्यकारी मंडल को कर्ज किश्त की मंजूरी और कार्यक्रम के पुनरुद्धार के लिए पाकिस्तान की रिक्वेस्ट को पेश करेगा. इस प्रक्रिया में एक और महीने का समय लग सकता है. 22 जून को पाकिस्तान ने आईएमएफ के साथ रुके हुए 6 अरब डॉलर के सहायता पैकेज को बहाल करने और अन्य अंतरराष्ट्रीय स्रोतों से वित्तपोषण के लिए राह खोलने के लिए एक समझौता किया था.

Loading...