Wednesday , June 29 2022

यूपी में मौसम के साथ ही सर‍िया के रेट में भी म‍िली राहत, चार हजार रुपये प्रति टन की और गिरावट

यूपी में मौसम के साथ ही सर‍िया के रेट में भी राहत म‍िली है। आयात घटने और निर्यात बढ़ने से सरिया के रेट में तेजी से अंतर आना शुरू हो गया है। तकरीबन दो से चार हजार रुपये प्रति टन की गिरावट इस्पात में दर्ज की गई है। हफ्तेभर पहले 74,000 रुपये प्रति टन बिक रहीं सरिया की कीमतें अब घटकर 70,000 से 72,000 रुपये प्रति टन तक पहुंच गई हैं।

यही नहीं छह डिजिट का आंकड़ा छूने वाले बडे़ ब्रांड घटकर 94,000 रुपये प्रति टन तक आ गए हैं। रायपुर, रायगढ़ और गैलेंट आदि ब्रांड अप्रैल माह के अंत तक 82,000 हजार रुपये टन तक पहुंच गए थे। कारोबारियों का कहना है कि सरकारी नीति में इस बार हुआ बदलाव बाजार पर सकारात्मक प्रभाव डाल रहा है।

ड्यूटी बढ़ने से सरिया के एक्सपोर्ट में कमी आई है। इससे बाजार में माल का स्टोरेज बढ़ा है। गर्मी के चलते डिमांड कम है। इससे सरिया के रेट में निरंतर कमी बनी हुई है। पहले रूस-यूक्रेन युद्ध का असर था। यूरोप में खपत अधिक होने से सरिया का एक्सपोर्ट बढ़ा था। इससे बडे़ ब्रांड ज्यादातर माल सीधे विदेश भेज रहे थे। अब इसमें कमी आ गई है।   

 -विशाल अग्रवाल, आयरन स्टील व्यापारी

इस्पात का रेट लगातार घट रहा है। सरिया 70 से 72 हजार रुपये टन आ गई है। यही हाल रहा तो एक माह में सरिया अपने पुराने भाव 62,000 रुपये टन के भाव को छू लेगी।   

-श्याममूर्ति गुप्ता, प्रदेश अध्यक्ष उप्र. सीमेंट व्यापार संघ

सरिया के दाम (प्रति टन रुपये में)          -मई माह       – मई माह के तीसरे हफ्ते में

सरिया लोकल ब्रांड रायपुर, रायगढ़, गैलेंट  -74,000       -70,000 से 72,000

नामी-गिरामी कंपनियों वाले ब्रांड               -1,00,000    -98,000 -93,000 से 94,000

Loading...