Saturday , November 27 2021

UP: NTPC प्लांट में हादसे की जांच के ल‍िए कम‍िटी गठ‍ित, एक महीने में देगी र‍िपोर्ट

लखनऊ. ऊंचाहार के एनटीपीसी प्लांट में हादसे की जांच के ल‍िए सोमवार को ऊर्जा मंत्रालय ने एक कम‍िटी गठि‍त क‍िया है। जो प्लांट में बॉयलर ब्लास्ट के कारणों की जांच करेगी। ये कमि‍टी एक महीने के अंदर अपनी र‍िपोर्ट ऊर्जा मत्रालय को सौंपेगी। इसमें सीईए (थर्मल) के सदस्य पीडी सिवाल, यूपीआरवीयूएनएल के प्रोजेकट डायरेक्टर सुबिर चक्रवर्ती, डायरेक्टर ऑफ स्टीम बॉयलर्स, महाराष्ट्रा के धवल प्रकाश अंतापुरकर और सीईए (टीई एंड टीडी) के चीफ इंजीनियर एलडी पांडेय शामिल हैं। 

UP: NTPC प्लांट में हादसे की जांच के ल‍िए कम‍िटी गठ‍ित, एक महीने में देगी र‍िपोर्ट

आगे पढ़‍िए सीएम योगी के आदेश के बाद भी अभी तक नहीं दर्ज हुई है एफआईआर…

-बता दें, मॉरीशस से लखनऊ पहुंचने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने रायबरेली एनटीपीसी हादसे में 34 लोगों की मौत के मामले में एफआईआर दर्ज करने की बात कही थी। हालांक‍ि, 4 नवंबर को सीएम के दिए आदेश के बाद भी अभी तक कोई एफआईआर नहीं हुई है।

-वहीं, एनटीपीसी हादसे के मामले में डीजीपी सुलखान सिंह ने कहा, ”यूपी पुलिस एफआईआर करने के लिए तैयार है, लेक‍िन कोई तहरीर तो दे। अगर किसी भी तरह का कोई एनटीपीसी हादसे का पीड़ित, अधिकारी या जांच अधिकारी एफआईआर कराता है तो हम एफआईआर करेंगे। यूपी पुलिस सोमोटो (खुद संज्ञान लेकर) एफआईआर नहीं कर सकती है।”

एनटीपीसी के सभी कर्मचारी ने दिया एक दिन की सैलरी

-ऊंचाहार के एनटीपीसी में हुए हादसे में मृतक के परिजनों को एनटीपीसी के सभी अधिकारियों और कर्मचारियों ने अपनी एक दिन की सैलरी दी है।

-एनटीपीसी के भारत भर के 23 हजार कर्मचारि‍यों ने अपनी एक दिन की सैलरी देते हुए 6 करोड़ रुपए मृतक के परिजनों को द‍िया जाएगा।

क्या था मामला

– बता दें, 1 नवंबर को रायबरेली के ऊंचाहार के NTPC प्लांट में बॉयलर ब्लास्ट हो गया था। बॉयलर फटने से अब तक 34 लोगों की मौत हो गई है, जबक‍ि 80 से ज्यादा लोग घायल हैं।

Loading...

Join us at Facebook