मुरलीधरन ने कहा- रिकॉर्ड बनाना 35 साल के बाद आसान नहीं है

श्रीलंका के खिलाफ अश्विन ने नागपुर में दूसरे टेस्ट मैच के समय ऑस्ट्रेलिया के शानदार खिलाड़ी, डेनिस लिली का रिकॉर्ड तोड़कर 54 टेस्ट में 300 विकेट पूरे किए थे. वही श्रीलंका के मुरलीधरन ने 58 टेस्ट में 300 विकेट पूरे किए थे. लेकिन ख़ास बात यह है कि, वह सबसे तेजी से 400, 500, 600, 700 टेस्ट विकेट तक पहुंचे और 800 टेस्ट विकेट लेने वाले दुनिया के इकलौते गेंदबाज हैं.मुरलीधरन ने कहा- रिकॉर्ड बनाना 35 साल के बाद आसान नहीं है

हाल ही में हुए एक इंटरव्यू में मुरलीधरन ने कहा कि, ‘मैं अश्विन को बधाई देना चाहता हूं, टेस्ट क्रिकेट में 300 विकेट लेना बड़ी उपलब्धि है. वह वनडे टीम में नहीं हैं, लेकिन उम्मीद है कि वह भारत के लिए वनडे क्रिकेट भी लगातार खेलकर उसमें भी इस प्रदर्शन को दोहराएंगे. अश्विन ने 111 वनडे मैचों में 150 विकेट भी लिए हैं निश्चित तौर पर इस समय वह दुनिया के सर्वश्रेष्ठ स्पिनर हैं.” 

इसके बाद मुरलीधरन से पूछा गया कि, क्या उन्हें लगता है कि वह उनका रिकॉर्ड तोड़ सकेंगे. इस बात का जवाब देते हुए मुरलीधरन ने कहा कि, “अभी उसके सामने लंबा करियर है और वह कई रिकॉर्ड बनाएंगे. इसके अलावा उन्होंने कहा, “वह (अश्विन) अभी 31-32 साल के ही हैं और कम से कम चार पांच साल और खेलेंगे. वैसे यह इस पर भी निर्भर होगा कि वह कैसा प्रदर्शन करता है और फिटनेस का स्तर क्या रहता है. यह समय ही बताएगा, क्योंकि 35 साल के बाद बहुत आसान नहीं होता.”

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com