Thursday , August 11 2022

पाकिस्तान में ईशनिंदा के खिलाफ प्रदर्शन तेज, कानून मंत्री ने दिया इस्तीफा

पाकिस्तान में कट्टरपंथी धार्मिक गुटों के द्वारा लगातार हो रहे प्रदर्शन के दबाव के बाद कानून मंत्री जाहिद हमीद ने इस्तीफा दे दिया है. हमीद ने कहा कि उन्होंने शांति बहाली के लिए इस्तीफा दिया है. इस्तीफा देने से पहले वे पंजाब के मुख्यमंत्री शहबाज़ शरीफ से मिले थे.

बता दें कि पाकिस्तान सरकार ने पुलिस और कट्टरपंथी धार्मिक गुटों के प्रदर्शनकारियों के बीच झड़पों में छह लोगों के मारे जाने और 200 से अधिक के घायल होने के बाद कानून व्यवस्था बहाल करने के लिए सेना से मदद मांगी थी.

पाकिस्तान में राजधानी इस्लामाबाद की ओर जाने वाले राजमार्ग की घेराबंदी कर प्रदर्शन कर रहे प्रदर्शनकारियों को हटाने के लिये पुलिस और अर्द्धसैनिक बलों ने कल अभियान शुरू किया जिसके बाद झड़पों में 200 से अधिक लोग घायल हो गए थे.

तहरीक-ए-खत्म-ए-नबूवत, तहरीक-ए-लबैक या रसूल अल्लाह (टीएलवाईआर) और सुन्नी तहरीक पाकिस्तान (एसटी) के करीब 2,000 कार्यकर्ताओं ने दो सप्ताह से अधिक समय से इस्लामाबाद एक्सप्रेसवे और मुर्री रोड की घेराबंदी कर रखी थी, यह सड़क इस्लामाबाद को इसके एकमात्र हवाईअड्डे और सेना के गढ़ रावलपिंडी को जोड़ती है.

स्वास्थ्य अधिकारियों के मुताबिक 200 से अधिक लोग घायल हुए हैं जिनमें कम से कम 95 सुरक्षाकर्मी शामिल हैं. इन सभी घायलों को इस्लामाबाद और रावलपिंडी के विभिन्न अस्पतालों में भर्ती कराया गया है. खबरों के अनुसार सिर में चोट लगने से कम से कम एक पुलिसकर्मी की मौत हो गई. 

पुलिस और अर्धसैनिक बलों ने प्रदर्शनकारियों को तितर बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े और रबर की गोलियां दागी थीं. लेकिन झड़पों के हिंसक हो जाने के बाद सुरक्षा बल पीछे हट गए.

देश में सुरक्षा की मौजूदा स्थिति के मद्देनजर प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी ने एक उच्च स्तरीय बैठक की. इस बैठक में सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा, आईएसआई प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल नवीद मुख्तियार, गृहमंत्री अहसन इकबाल और पंजाब प्रांत के मुख्यमंत्री शहबाज शरीफ शामिल हुए थे.

Loading...