Sunday , November 29 2020

विधायकों को खरीदने की ऑडियो टैप आई सामने, अमित शाह का नाम भी

लोकतंत्र को शर्मसार कर देने वाला कर्नाटक चुनाव का ड्रामा ख़त्म होने का नाम ही नहीं ले रहा है, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद आज बीजेपी के येदियुरप्पा को सदन में बहुमत पेश करना होगा जो शाम को 4 बजे है. इस बीच विधायकों की खरीद परोख्त के बीच कांग्रेस ने जारी किया है एक ऑडियो टैप जिसमें बीजेपी के नेता कांग्रेस के नेता को खरीदने की कोशिश कर रहे है. लोकतंत्र को शर्मसार कर देने वाला कर्नाटक चुनाव का ड्रामा ख़त्म होने का नाम ही नहीं ले रहा है, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद आज बीजेपी के येदियुरप्पा को सदन में बहुमत पेश करना होगा जो शाम को 4 बजे है. इस बीच विधायकों की खरीद परोख्त के बीच कांग्रेस ने जारी किया है एक ऑडियो टैप जिसमें बीजेपी के नेता कांग्रेस के नेता को खरीदने की कोशिश कर रहे है.     दरअसल इस टैप में  रेड्डी वाल्मीकि समुदाय के एक प्रमुख नेता रायचूर ग्रामीण के विधायक बासनगौड़ा दड्डाल से बात कर उन्हें बीजेपी को समर्थन देने के लिए राजी करते हुए सुनाई दे रहे है. रेड्डी और येदियुरप्पा आपस में करीबी माने जाते रहे है वहीं इन दोनों पर कई मामले दर्ज है, जिसमें रेड्डी का खनन माफिया के तौर पर नाम आना वहीं येदियुरप्पा को भ्रष्टाचार के मामले में जेल भी हो चुकी है.  जनार्दन रेड्डी और बासनगौड़ा दड्डल के बीच बातचीत के कुछ अंश:     जनार्दन रेड्डीः  क्या ये बासनगौड़ा हैं? क्या आप फ्री हैं? बासनगौड़ा दड्डलः  हां मैं ही हूं जनार्दन रेड्डीः पहले जो भी हुआ वो भूल जाओ, सब बुरी चीजों को भूल जाओ. मैं आपको बता रहा हूं, मेरा अच्छा समय शुरू हो गया है. और मैं राष्ट्रीय अध्यक्ष के साथ एक मीटिंग अरेंज करूंगा और आप उनसे आमने-सामने बात कर सकते हैं. उसके बाद हम अगले स्टेप की ओर बढ़ सकते हैं. बासनगौड़ा दड्डलः नहीं सर, जब मैं मुश्किल दौर से गुजर रहा था तब उन्होंने मुझे एमएलए बनाया. जनार्दन रेड्डीः मैं आपको एक बात बताऊंगा. बीएसआर के समय जब हमने पार्टी बनाई तब हमने बहुत बुरा वक्त देखा. इसमें कोई शक नहीं है कि आप हम पर विश्वास कर के बहुत कुछ खो चुके है. लेकिन मैं आपको बता रहा हूं कि आप की कमाई अब 100 गुना ज्यादा बढ़ जाएगी. शिवनगौड़ा नायक मेरे कारण मंत्री बने. आज वे मजबूत हैं और अपनी देखभाल कर सकते हैं. यह सब मेरे कारण हुआ. राजू गौड़ा को भी मेरे कारण ही फायदा हुआ. बासनगौड़ा दड्डलः हां जनार्दन रेड्डीः यह आपका दुर्भाग्य है कि वह हमारा बुरा वक्त था. आज शिवनगौड़ा की जीत का कोई मायने नहीं है. आप मंत्री बन जाएंगे. क्या आपको समझ आया? हम सीधे अपने अध्यक्ष से मुलाकात करवाएंगे. मैं आपकी उनसे बात करवाउंगा. बासनगौड़ा दड्डलः मैं माफी चाहूंगा सर. मैं जब अपने बुरे वक्त में था जब उन्होंने मुझे टिकट दिया और मुझे जिताया. ऐसी परिस्थिति में मैं उन्हें धोखा नहीं दे सकता. मैं आपका सम्मान करता हूं...  यह टैप ऐसे समय में आई जब बीजेपी पर कांग्रेस और जेडीएस के विधायकों को 100-100 में खरीदने का मामला सामने आया था, हालाँकि लोकतंत्र को खतरे में डालने वाले इस चुनाव में इन ख़बरों की कोई अहमियत नहीं न ही किसी पर कोई कार्यवाही है. स्वतंत्र संस्था कहलाने वाली चुनाव आयोग भी इन मामलो में हमेशा से चुप्पी साधे बैठी होती है.

दरअसल इस टैप में  रेड्डी वाल्मीकि समुदाय के एक प्रमुख नेता रायचूर ग्रामीण के विधायक बासनगौड़ा दड्डाल से बात कर उन्हें बीजेपी को समर्थन देने के लिए राजी करते हुए सुनाई दे रहे है. रेड्डी और येदियुरप्पा आपस में करीबी माने जाते रहे है वहीं इन दोनों पर कई मामले दर्ज है, जिसमें रेड्डी का खनन माफिया के तौर पर नाम आना वहीं येदियुरप्पा को भ्रष्टाचार के मामले में जेल भी हो चुकी है.

जनार्दन रेड्डी और बासनगौड़ा दड्डल के बीच बातचीत के कुछ अंश:

जनार्दन रेड्डीः  क्या ये बासनगौड़ा हैं? क्या आप फ्री हैं?
बासनगौड़ा दड्डलः  हां मैं ही हूं
जनार्दन रेड्डीः पहले जो भी हुआ वो भूल जाओ, सब बुरी चीजों को भूल जाओ. मैं आपको बता रहा हूं, मेरा अच्छा समय शुरू हो गया है. और मैं राष्ट्रीय अध्यक्ष के साथ एक मीटिंग अरेंज करूंगा और आप उनसे आमने-सामने बात कर सकते हैं. उसके बाद हम अगले स्टेप की ओर बढ़ सकते हैं.
बासनगौड़ा दड्डलः नहीं सर, जब मैं मुश्किल दौर से गुजर रहा था तब उन्होंने मुझे एमएलए बनाया.
जनार्दन रेड्डीः मैं आपको एक बात बताऊंगा. बीएसआर के समय जब हमने पार्टी बनाई तब हमने बहुत बुरा वक्त देखा. इसमें कोई शक नहीं है कि आप हम पर विश्वास कर के बहुत कुछ खो चुके है. लेकिन मैं आपको बता रहा हूं कि आप की कमाई अब 100 गुना ज्यादा बढ़ जाएगी. शिवनगौड़ा नायक मेरे कारण मंत्री बने. आज वे मजबूत हैं और अपनी देखभाल कर सकते हैं. यह सब मेरे कारण हुआ. राजू गौड़ा को भी मेरे कारण ही फायदा हुआ.
बासनगौड़ा दड्डलः हां
जनार्दन रेड्डीः यह आपका दुर्भाग्य है कि वह हमारा बुरा वक्त था. आज शिवनगौड़ा की जीत का कोई मायने नहीं है. आप मंत्री बन जाएंगे. क्या आपको समझ आया? हम सीधे अपने अध्यक्ष से मुलाकात करवाएंगे. मैं आपकी उनसे बात करवाउंगा.
बासनगौड़ा दड्डलः मैं माफी चाहूंगा सर. मैं जब अपने बुरे वक्त में था जब उन्होंने मुझे टिकट दिया और मुझे जिताया. ऐसी परिस्थिति में मैं उन्हें धोखा नहीं दे सकता. मैं आपका सम्मान करता हूं…

यह टैप ऐसे समय में आई जब बीजेपी पर कांग्रेस और जेडीएस के विधायकों को 100-100 में खरीदने का मामला सामने आया था, हालाँकि लोकतंत्र को खतरे में डालने वाले इस चुनाव में इन ख़बरों की कोई अहमियत नहीं न ही किसी पर कोई कार्यवाही है. स्वतंत्र संस्था कहलाने वाली चुनाव आयोग भी इन मामलो में हमेशा से चुप्पी साधे बैठी होती है. 

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com