Tuesday , December 1 2020

तिरुपति में अमित शाह के काफिले पर पत्थर फेंके

तिरुपति के अलीपीरी में शुक्रवार को तब हालात तनावपूर्ण हो गए जब तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) के कार्यकर्त्ताओं ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के खिलाफ प्रदर्शन कर कथित रूप से उनके काफिले पर पत्थर फेंके . बाद में मुख्यमंत्री एन. चंद्रबाबू नायडू ने इस घटना पर कार्यकर्ताओं की आलोचना कर अनुशासनहीनता को सहन नहीं करने की चेतावनी दी.तिरुपति के अलीपीरी में शुक्रवार को तब हालात तनावपूर्ण हो गए जब तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) के कार्यकर्त्ताओं ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के खिलाफ प्रदर्शन कर कथित रूप से उनके काफिले पर पत्थर फेंके . बाद में मुख्यमंत्री एन. चंद्रबाबू नायडू ने इस घटना पर कार्यकर्ताओं की आलोचना कर अनुशासनहीनता को सहन नहीं करने की चेतावनी दी.  उल्लेखनीय है कि यह घटना तब हुई जब अमित शाह तिरूमला पहाड़ियों से रेनीगुंता हवाई अड्डे की तरफ जा रहे थे. इस दौरान तेदेपा कार्यकर्त्ताओं ने नारेबाजी की और केन्द्र पुनर्गठन अधिनियम-2014 में आंध्र प्रदेश से किए गए सभी वादे पूरा कर राज्य को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग की. हालाँकि इस दौरान अमित शाह सुरक्षित रहे.  बता दें कि इस घटना के बारे में जैसे ही सीएम सीबी नायडू को पता चली तो ने कार्यकर्ताओं की आलोचना करते हुए उन्हें चेताया कि अनुशासनहीनता के इन कृत्यों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. वहीं उपमुख्यमंत्री (गृह) एन. चीना राजप्पा ने इस घटना के बारे में प्रेस को बताया कि कुछ अज्ञात बदमाशों ने एक पत्थर फेंका जो शाह के काफिले के एक वाहन पर जाकर टकराया था. स्मरण रहे कि आंध्र को विशेष दर्जा न देने से टीडीपी  कार्यकर्ता नाराज हो गए. इस मुद्दे पर टीडीपी राजग से बाहर हो गई  और उसने केंद्र के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव भी पेश किया था तिरुपति के अलीपीरी में शुक्रवार को तब हालात तनावपूर्ण हो गए जब तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) के कार्यकर्त्ताओं ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के खिलाफ प्रदर्शन कर कथित रूप से उनके काफिले पर पत्थर फेंके . बाद में मुख्यमंत्री एन. चंद्रबाबू नायडू ने इस घटना पर कार्यकर्ताओं की आलोचना कर अनुशासनहीनता को सहन नहीं करने की चेतावनी दी.  उल्लेखनीय है कि यह घटना तब हुई जब अमित शाह तिरूमला पहाड़ियों से रेनीगुंता हवाई अड्डे की तरफ जा रहे थे. इस दौरान तेदेपा कार्यकर्त्ताओं ने नारेबाजी की और केन्द्र पुनर्गठन अधिनियम-2014 में आंध्र प्रदेश से किए गए सभी वादे पूरा कर राज्य को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग की. हालाँकि इस दौरान अमित शाह सुरक्षित रहे.  बता दें कि इस घटना के बारे में जैसे ही सीएम सीबी नायडू को पता चली तो ने कार्यकर्ताओं की आलोचना करते हुए उन्हें चेताया कि अनुशासनहीनता के इन कृत्यों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. वहीं उपमुख्यमंत्री (गृह) एन. चीना राजप्पा ने इस घटना के बारे में प्रेस को बताया कि कुछ अज्ञात बदमाशों ने एक पत्थर फेंका जो शाह के काफिले के एक वाहन पर जाकर टकराया था. स्मरण रहे कि आंध्र को विशेष दर्जा न देने से टीडीपी  कार्यकर्ता नाराज हो गए. इस मुद्दे पर टीडीपी राजग से बाहर हो गई  और उसने केंद्र के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव भी पेश किया था

उल्लेखनीय है कि यह घटना तब हुई जब अमित शाह तिरूमला पहाड़ियों से रेनीगुंता हवाई अड्डे की तरफ जा रहे थे. इस दौरान तेदेपा कार्यकर्त्ताओं ने नारेबाजी की और केन्द्र पुनर्गठन अधिनियम-2014 में आंध्र प्रदेश से किए गए सभी वादे पूरा कर राज्य को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग की. हालाँकि इस दौरान अमित शाह सुरक्षित रहे.

बता दें कि इस घटना के बारे में जैसे ही सीएम सीबी नायडू को पता चली तो ने कार्यकर्ताओं की आलोचना करते हुए उन्हें चेताया कि अनुशासनहीनता के इन कृत्यों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. वहीं उपमुख्यमंत्री (गृह) एन. चीना राजप्पा ने इस घटना के बारे में प्रेस को बताया कि कुछ अज्ञात बदमाशों ने एक पत्थर फेंका जो शाह के काफिले के एक वाहन पर जाकर टकराया था. स्मरण रहे कि आंध्र को विशेष दर्जा न देने से टीडीपी  कार्यकर्ता नाराज हो गए. इस मुद्दे पर टीडीपी राजग से बाहर हो गई  और उसने केंद्र के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव भी पेश किया था 

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com