Saturday , December 5 2020

भारत के साथ मजबूत संबंध चाहता है चीन

लेकिन मसूद अजहर पर नहीं लगने देता पाबंदी

बीजिंग। चीन ने एक बार फिर भारत के साथ रिश्तों को मजबूत करने की इच्छा जाहिर की है। उसने कहा है कि वह अपने संबंधों को आगे बढ़ाने के लिए भारत के साथ काम करने को तैयार है। चीन की तरफ से यह बयान उस समय आया है, जब एक दिन पहले ही उसने जैश-ए-मोहम्मद के चीफ महसूद अजहर को अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित करने के भारतीय प्रयासों पर फिर अड़ंगा लगा दिया था। गुरुवार को चीन ने लगातार चौथी बार भारत, अमेरिका समेत दूसरे देशों को पठानकोट आतंकी हमले के मास्टरमाइंड मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित करने से रोक दिया था। चीन ने वीटो लगाते हुए कहा था कि प्रतिबंध कमिटी के सदस्यों के बीच इस मसले को लेकर सहमति नहीं है। इस कदम के कुछ ही घंटों बाद चीन ने भारत के साथ मजबूत संबंधों की भी बात कह दी है।भारत के साथ मजबूत संबंध चाहता है चीन

जबकि मसूद अजहर पर प्रतिबंध के मामले में अड़ंगा लगाने पर भारत ने चीन की तीखी आलोचना की थी। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने सख्त शब्दों वाले एक बयान में कहा था कि हम इस बात को लेकर बहुत निराश हैं कि एक बार फिर से एक देश ने मसूद अजहर को एक वैश्विक आतंकवादी नामित करने के विषय पर अंतरराष्ट्रीय आमराय को बाधित कर दिया। हालांकि, बयान में चीन का नाम नहीं लिया गया था। उधर, चीन के असिस्टेंट विदेश मंत्री चेन शियाडॉन्ग ने बयान दिया है कि चीन भारत के साथ अपने संबंधों को बहुत महत्व देता है। उन्होंने कहा कि, भारत चीन का महत्वपूर्ण पड़ोसी है। चीन अपने पड़ोसियों से मजबूत संबंध बनाने की कोशिश कर रहा है।

एक तरफ तो चीन की तरफ से आने वाले बयानों में भारत के साथ दोस्ती की प्रतिबद्धता जताई जा रही है, वहीं दूसरी तरफ मसूद के मामले में वह पाकिस्तान के साथ है। चीन पिछले दो सालों से मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित करने के भारतीय प्रयासों में अड़ंगा लगाता आ रहा है। पिछले साल मार्च में संयुक्त राष्ट्र के 15 सदस्य देशों में चीन इकलौता देश था, जिसने भारतीय प्रस्ताव को रोक दिया था। भारत ने मसूद अजहर को 1267 प्रतिबंध सूची में डालने की अपील की थी। इसको 15 में से 14 देशों का समर्थन था। इस प्रतिबंध सूची में शामिल होते ही मसूद अजहर की प्रॉपर्टी सीज होती और ट्रैवल बैन समेत अन्य कार्रवाइयां होतीं। पिछले दिनों भारत और चीन के संबंध डोकलाम विवाद को लेकर भी बिगड़े थे।

 
 
Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com